1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. Soft Tissue Sarcoma: शरीर के किसी भी टिश्यू में हो सकता है ये रेयर कैंसर, जानें इसके लक्षण

Soft Tissue Sarcoma: शरीर के किसी भी टिश्यू में हो सकता है ये रेयर कैंसर, जानें इसके लक्षण

सॉफ्ट टिश्यू सरकोमा नाम का एक रेयर कैंसर होता है। जानें इस बीमारी के बारे में सबकुछ।

shivani singh shivani singh
Updated on: August 16, 2019 11:30 IST
Soft Tissue Sarcoma- India TV
Soft Tissue Sarcoma

Soft Tissue Sarcoma: भागदौड़ भरी लाइफ के कारण हम खुद का जरा सा भी ख्याल नहीं रख पाते है। जिसके कारण हमें कई खतरनाक बीमारियों का सामना करना पड़ता है। कैंसर ऐसी खतरनाक बीमारी है जिससे हर साल लाखों लोगों की मौत हो जाती है। कैंसर के कई प्रकार होते है। जैसे ब्रेस्ट कैंसर, ब्लड कैंसर, कान का कैंसर, मुंह का कैंसर। लेकिन इसके अलावा सॉफ्ट टिश्यू सरकोमा नाम का एक रेयर कैंसर भी होता है जो धीरे धीरे लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। जानें इस बीमारी के बारे में सबकुछ।

क्या है सॉफ्ट टिश्यू सरकोमा?

सॉफ्ट टिश्यू सरकोमा एक रेयर कैंसर है जोकि शरीर के चारों ओर मौजूद टिश्यू में हो जाता है। इसमें मांसपेशियों, वसा, रक्त वाहिकाओं, तंत्रिकाओं के साथ-साथ ज्वांइट्स भी शामिल हैं।

हार्ट अटैक से भी ज्यादा खतरनाक है ये रोग, जानें लक्षण और ट्रीटमेंट

सॉफ्ट टिश्यू सरकोमा के 50 से अधिक उप प्रकार मौजूद हैं। उसके कुछ प्रकार बच्चों को भी हो जाते है। इसके अलावा इस बीमारी से सबसे ज्यादा युवा चपेट में आ रहे है। इतना ही नहीं इस बीमारी को डायग्नोसिस करना थोड़ा मुश्किल है क्योंकि यह कई तरह से बढ़ता है।

Soft Tissue Sarcoma

Soft Tissue Sarcoma

यह बीमारी शरीर के किसी भी भाग में हो सकती है, लेकिन सबसे ज्यादा असर आर्म्स और पैरों पर होता है। सर्जरी के द्वारा इस बीमारी से आसानी से निजात पाई जा सकती है बर्शते इसकी प्रारंभिक स्टेज पर ही इसका पता चल सके। 

Monsoon Tips: प्याज के पानी से दूर करें बीमारियां, खांसी से भी मिलेगी राहत

सॉफ्ट टिश्यू सरकोमा के लक्षण

  • सॉफ्ट टिश्यू सरकोमा के शुरुआती दिनों में कोई भी लक्षण या संकेत सामने नहीं आते है। ट्यूमर बढ़ना भी इसका एक कारण हो सकता है।
  • शरीर में गांठ या सूजन होना
  • दर्द होना, जब ट्यूमर नसों या मांसपेशियों को दबाता है

कार्डियक अरेस्ट से सुषमा स्वराज का निधन, जानें हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट में अंतर और लक्षण

कब करें डॉक्टर से संपर्क
अगर आपको कुछ ऐसा दिखें तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

  • एक गांठ जो आकार में बढ़ने के साथ-साथ असहनीय दर्द दे रही हो।
  • गांठ जो एक मांसपेशी के भीतर गहरी स्थित हो और छूने पर पता चल रही हो।
  • गांठ हटाने के बाद दोबारा निकल आई हो।
India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment