1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. कहीं आप बार-बार एक ही गाना तो नहीं सुनते, तो आपको हो सकता है म्यूजिकल पैरालिसिस

कहीं आप एक ही गाना बार-बार तो नहीं सुनते, अगर हां तो पहले पढ़ लें ये खबर

डीजर ने ब्राजील, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी और अमेरिका में 5000 लोगों पर ऑनलाइन सर्वे किया। सर्वे के नतीजे बताते हैं कि आमतौर पर नया संगीत ढूंढने की इच्छा 25 साल की उम्र में प्रबल होती है।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Published on: August 28, 2018 7:41 IST
Music- India TV
Music

हेल्थ डेस्क: अगर आपकी एज 28 साल के ऊपर है और आप एक ही गाना कई बार सुनते रहते है। ने गानों पर आपका ध्यानम नहीं जाता है। या ये कह सकते है कि कुछ गाने ही आपके कलेक्शन में है तो समझ लें कि आप जैसे दुनिया में बहुत लोग है। लेकिन इस कंडीशन को 'म्यूजिकल पैरालिसिस' कहा गया है। एक शर्वे में ये बात सामने आई कि यह स्थिति सबसे ज्यादा 27 साल 11 माह में होती है।

इस साल में ढूंढते है नया गाना

डीडब्ल्यू की खबर के मुताबिक स्ट्रीमिंग सर्विस देने वाली कंपनी डीजर ने इस बारे में व्यापक सर्वे कर जानकारी जुटाई है। डीजर ने ब्राजील, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी और अमेरिका में 5000 लोगों पर ऑनलाइन सर्वे किया। सर्वे के नतीजे बताते हैं कि आमतौर पर नया संगीत ढूंढने की इच्छा 25 साल की उम्र में प्रबल होती है। माना जाता है कि इस उम्र में इंसान हर सप्ताह कम से कम 10 नए गाने सुनता है। (रोजाना खाएं सिर्फ 4 काली मिर्च और इसके फायदे देखकर आप भी रह जाएंगे हैरान)

इस उम्र में जल्द पकड़ता है म्यूजिकल पैरालिसिस
डीडब्ल्यू की खबर के मुताबिक म्यूजिकल पैरालिसिस की उम्र ब्राजील में थोड़ी जल्दी आती है. यहां इस स्थिति में पहुंचने वाले इंसानों की औसत आयु 23 साल दो महीने है। जबकि जर्मन लोग इस स्थिति में थोड़ी देर से आते हैं करीब 31 साल की उम्र में। हालांकि पांचों देशों के ज्यादातर लोगों ने कहा कि उनकी इच्छा थी वो ज्यादा नए गाने सुनें।

हो सकता है इसका ये कारण
इसके पीछे जो कारण बताए गए हैं उनमें काम की व्यस्तता को सबसे प्रमुख बताया गया है। कुछ लोगों ने बच्चों को संभालने की जिम्मेदारी और संगीत की पसंद से अभिभूत होने को भी इसका कारण बताया है। डीजर ने इस सर्वे को जारी कर अपने नए फीचर फ्लो का प्रचार कर रही है। मड थेरेपी के ये बेहतरीन फायदें नहीं जानते होगे आप, स्किन पर लगाते ही देखें कमाल

फ्लो में सुनने वाले की पसंदीदा संगीत के साथ नया संगीत भी जोड़ा जाता है जो पुरानी पसंद के आधार पर ही होता है। स्ट्रीमिंग सुविधा देने वाली कंपनियों में डीजर एक प्रमुख नाम है जिसकी होड़ स्पोटीफाइ, एप्पल म्यूजिक और टाइडल से है। पेरिस की इस कंपनी के पास 1.4 करोड़ सक्रिय यूजर हैं।

आम चुनाव से जुड़ी ताजा खबरों, लोकसभा चुनाव 2019 की खबरों, चुनावों से जुड़े लाइव अपडेट्स और चुनाव परिणामों के लिए https://hindi.indiatvnews.com/elections पर बने रहें। इसके साथ ही हमें फेसबुक और ट्विटर पर लाइक करके या #ElectionsWithIndiaTV हैशटैग का इस्तेमाल करके 543 लोकसभा सीटें और विधानसभा चुनावों से जुड़े ताजा परिणाम पाएं। आप #ResultsWithRajatSharma हैशटैग का इस्तेमाल करके इंडिया टीवी के चेयरमैन एवं एडिटर-इन-चीफ रजत शर्मा के साथ 23 मई को चुनाव परिणामों की पल-पल की जानकारी हासिल कर सकते हैं।
Write a comment
india-tv-counting-day-contest
modi-on-india-tv