1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. भूलकर भी न करें ज्यादा पपीता का सेवन, हो सकती है ये जानलेवा बीमारी

भूलकर भी न करें ज्यादा पपीता का सेवन, हो सकती है ये जानलेवा बीमारी

पपीता में भरपूर मात्रा में विटामिन्स पाई जाती है। जो कि अन्य चीजों से 300 गुना अधिक होती है। जो कि आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद है, लेकिन क्या आप ये बात जानते हैं कि इसके भी साइड इफेक्ट होते है। जानिए क्या है।

shivani singh shivani singh
Published on: February 22, 2018 19:29 IST
papaya- India TV
papaya

हेल्थ डेस्क: पपीता खाना हर किसी को पसंद होता है। इतना ही नहीं इसका सेवन करने से कई बीमारियों से निजात भी मिल जाता है, लेकिन अगर इसका सेवन एक लिमिट में किया गया हो।

पपीता में भरपूर मात्रा में विटामिन्स पाई जाती है। जो कि अन्य चीजों से 300 गुना अधिक होती है। इसके साथ-साथ  नियासिन, मैग्नीशियम, पोटेशियम, प्रोटीन, कैरोटीन और प्राकृतिक फाइबर पाएं जाते है। जो कि आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद है, लेकिन क्या आप ये बात जानते हैं कि इसके भी साइड इफेक्ट होते है। जानिए क्या है।

रैशेज

कई बार आपने ध्य़ान नहीं दिया होगा अधिक पपीता का सेवन करने से आपके शरीर में रैशेज पड़ गए होगे, लेकिन आप सोचते होगे कि किसी ओर कारण से पड़े है। तो आपके बता दें कि पपीते में भारी मात्रा में मौजूद पपाइन नामक एंजाइम एंटीऑक्‍सीडेंट होने के साथ-साथ एंटी-एजिंग क्रीम का भी काम करता है। जरुरी नहीं कि यह आपकी स्किन के लिए ठीक हो।

side effect of papaya

side effect of papaya

हो सकता है गर्भपात
आपको एक बात बता दें कि अनचाहे गर्भ से निजात पाने के लिए कच्चा पपीता का इस्तेमाल किया जाता है। आप पके हुए पपीता का सेवन कर सकते है। इसमें पाया जाने वाला लैटेक्ट पदार्थ कभी-कभी हानिकारक साबित हो सकता है, क्योंकि इसका सेवन करने से आपका गर्भाशय सिकुड़ने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है। जिसके कारण गर्भपात या फिर समय से पहले प्रसव हो सकता है। जो कि बच्चे के लिए जानलेवा हो सकता है।

side effect of papaya

side effect of papaya

एलर्जी
पपीता में लैटेक्स नामक तत्व पाया जाता है। जो कि शरीर में एलर्जी का कारण भी बनता है। इसलिए इसका सेवन एक सीमित मात्रा में करें। जिससे आपकी किसी परेशानी का सामना न करना पड़े।

अगली स्लाइड में पढ़ें और साइड इफेक्ट्स के बारें में

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment