1. You Are At:
  2. होम
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. सिर के अलग-अलग हिस्से में हो रहा है दर्द तो हो सकती हैं ये बीमारियां, पढ़ें पूरी खबर

सिर के अलग-अलग हिस्से में हो रहा है दर्द तो हो सकती हैं ये बीमारियां, पढ़ें पूरी खबर

विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक आपके सिर का दर्द आपकी कई बार बीमारियों का खुलासा करती है। कई बार ये सिर का दर्द इतना ज्यादा होता है जो आप इससे बर्दाश्त नहीं कर पाते है।

Written by: Swati Singh [Updated:31 Aug 2018, 8:10 PM IST]
headache- India TV
headache

नई दिल्ली: विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक आपके सिर का दर्द आपकी कई बार बीमारियों का खुलासा करती है। कई बार ये सिर का दर्द इतना ज्यादा होता है जो आप इससे बर्दाश्त नहीं कर पाते है। आज हम आपको ऐसे सिर दर्द के प्रकार बताएंगे जिससे आप ये पता लगा सकते हैं कि कौन सी बीमारी कि वजह से आपको सिर में दर्द हो रहा है।

 

माइग्रेन का दर्द

खराब लाइफस्टाइल और खानपान की वजह से माइग्रेन एक बड़ी बीमारी बन सकती है। यह एक ऐसी समस्या है जिससे आजकल कई लोग परेशान हैं। इस वजह से सिर के एक हिस्से में तेज दर्द होने लगता है और सहना मुश्किल हो जाता है। यह दर्द कई बार कुछ मिनटों में ही ठीक हो जाता है और कई बार तो यह दर्द कितनों दिन तक रहता है।

माइग्रेन दर्द ज्यादा तब बढ़ जाता है जब आप टाइम से खाना नहीं खाते, आपकी नींद पूरी नहीं होती, हार्मोनल इंबैलेंस, एलर्जी। माइग्रेन का दवा सिर्फ 13 प्रतिशत लोगों को ही मिल पाता है बल्कि 38 प्रतिशत लोगों को इसकी जरूरत है। अगर आपके भी सर में 3 से 6 दिन तक दर्द होता है तो आपको डॉक्टर से सलाह लेने की जरूरत है।

टेंशन में होने वाला दर्द

आप किसी बात से परेशान है और आपके पूरे सिर में दर्द होगा। इसकी निशानी यह है कि इसका दर्द आपके पूरे सर में होगा। और फिर धीरे-धीरे फैलता है।

साइनस में होने वाला दर्द

मौसम में बदलाव के साथ सिरदर्द होना सामान्‍य है। लेकिन अगर सिरदर्द आपके सिर के एक ही हिस्‍से में है और तापमान में हल्‍के से बदलाव के बाद यह और बदतर होता जाता है तो यह साइनस में होने वाला सिरदर्द है। मौसम में बदलाव के साथ आगे झुकने और लेटने से भी साइनस से होने वाला सिरदर्द बढ़ जाता है। जब नाक व साइनस का संक्रमण होता है तो इसका लक्षण आंखों पर और माथे पर महसूस होता है। कई बार तो नाक बंद, थकान, सर्दी के साथ बुखार, चेहरे पर सूजन व नाक से पीला या हरे रंग का रेशा भी निकलता है। इसके उपचार के लिए आपने कई तरीके आजमायें होंगे लेकिन इस लेख में कुछ सामान्‍य तरीके हैं जो साइनस में होने वाले सिरदर्द से राहत देंगे। 

गरम हवा में सांस लें
साइनस के रास्‍ते ठंडी और नमयुक्‍त वायु में सांस लेने के कारण सूख जाते हैं, जिसके कारण साइनस के मरीजों को सांस लेने में दिक्‍कत होती है। ऐसे में इस रास्‍ते को नम रखने के लिए गरम हवा में सांस लीजिए। ऐसे में अपने कमरे में हवा को गरम रखने वाले उपकरण का प्रयोग कीजिए। गरम पानी के भाप में 10-20 मिनट तक सांस लीजिए। इसके अलावा गरम पानी के शॉवर में थोड़ा वक्‍त बितायें।

थंडर क्लैप हैडेक
यह सामान्य सिर दर्द नहीं थंडर क्लैप हैडेक है। इस दर्द के इलाज में बरती गई लापरवाही जानलेवा हो सकती है। हालांकि,यह एक तरह का रेयर हैडक है। इसके बारे में लोगों को अवेयरनैस नहीं है। दस से तेरह परसेंट लोगों में यह हैडैक ब्लड वैसल्स रप्चर होने की वजह से होता है। यह एक तरह का ब्रेन हैमरेज है। इसे डायग्नोस करने के लिए सीटी स्कैन और ब्रेन की एंजियोग्राफी करवाना जरूरी है। ताकि यह मालूम चल पाए कि ब्लड वैसल्स रप्चर तो नहीं हुई है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Web Title: Identify the pain in your head: types of headaches: सिर के अलग-अलग हिस्से में हो रहा है दर्द तो हो सकती हैं ये बीमारियां, पढ़ें पूरी खबर
Write a comment
the-accidental-pm-300x100