1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. ऑफिस में ऑल टाइम रहना चाहते हैं फ्रेश तो जंक फूड को करें बाय और इन चीजों को करें हाय

ऑफिस में ऑल टाइम रहना चाहते हैं फ्रेश तो जंक फूड को करें बाय और इन चीजों को करें हाय

एक नए रिसर्च में यह बात सामने आई है कि काम करने वाले अपने ऑफिस में अनहेल्दी खाना खाते हैं, ऐसे लोगों में डायबिटीज और दिल की बीमारियों का खतरा अधिक होता है।

IANS IANS
Updated on: May 25, 2019 12:02 IST
health care - India TV
health care 

नई दिल्ली: एक नए रिसर्च में यह बात सामने आई है कि काम करने वाले अपने ऑफिस में अनहेल्दी खाना खाते हैं, ऐसे लोगों में डायबिटीज और दिल की बीमारियों का खतरा अधिक होता है। डॉक्टर की सलाह है कि ऑफिस में जंक फूड की जगह फल, दही, सब्जी, जूस को तरजीह दें। अनहेल्दी खाना समय के साथ मोटापे का कारण बन सकता है। इस तथ्य पर जागरूकता बढ़ाने की जरूरत है कि जीवनशैली से जुड़ी बीमारियां के चलते कार्यालय में अनुपस्थिति, कम उत्पादकता की शिकायतें झेलनी पड़ सकती हैं।

हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया (एचसीएफआई) के अध्यक्ष पद्मश्री डॉ. के.के. अग्रवाल का कहना है कि जंक फूड खाने से अधिक वसा एकत्र होने की प्रवृत्ति होती है, जिससे इंसुलिन प्रतिरोध हो सकता है। इसका एक प्रमुख कारण लोगों की आज की जीवनशैली है। दौड़ते-भागते और तेज-रफ्तार जीवन के कारण अक्सर लोग सुबह नाश्ता नहीं कर पाते और दिन के बाकी समय अस्वास्थ्यकर और फटाफट वाला भोजन खाते हैं। 

उन्होंने कहा कि काम के दौरान जंक फूड (ट्रांस फैट्स वाली रिफाइंड कार्ब्स) की जगह फल, दूध, दही, सलाद, ड्राइफ्रूट्स, सत्तू, नींबू पानी, गन्ने का रस या शहद लेना चाहिए। लोगों को कैफेटेरिया या वर्कप्लेस में फल और सब्जियां स्टॉक करना, मिठाई की जगह फल पर अधिक जोर देना चाहिए।

डॉ. अग्रवाल ने कहा, "किसी को भी जरूरत से अधिक भोजन नहीं करना चाहिए। स्वाद कलिकाएं केवल जीभ के सिरे और किनारे पर होती हैं। यदि आप जल्दी-जल्दी भोजन करते हैं, तो मस्तिष्क को संकेत नहीं मिलेंगे। छोटे ग्रास बनाकर खाने और उन्हें ठीक से चबाने से स्वाद कलियों के माध्यम से संकेत दिमाग को मिलते हैं। मस्तिष्क को केवल तभी संकेत मिलता है, जब पेट 100 प्रतिशत भरा होता है। इस प्रकार, कोई कितना खा सकता है, यह पेट की परिपूर्णता पर निर्भर करता है।"

डॉ. अग्रवाल के कुछ सुझाव :

कम खाएं और धीरे-धीरे खाकर अपने भोजन का आनंद लें।

अपनी आधी थाली फल और सब्जियों से भरें।

बड़े कौर न खाएं, उनकी वजह से वजन बढ़ सकता है।

कम से कम आधा अनाज साबुत होना चाहिए।

ट्रांस फैट और चीनी की अधिकता वाली चीजें न खाएं। 

स्वस्थ वसा चुनें। वसा रहित या कम वसा वाले दूध और डेयरी उत्पादों का उपयोग करें।

खूब पानी पिएं। शर्करा युक्त पेय से बचें।

उन खाद्य पदार्थों से बचें, जिनमें सोडियम का स्तर उच्च होता है, जैसे स्नैक्स और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ।

इस सबसे बढ़कर, अपनी गतिविधि के हिसाब से अपने भोजन के विकल्पों को संतुलित करें।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Health News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment
yoga-day-2019