1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. साक्षी के प्रेम विवाह में आय नया मोड़, मंदिर के महंत ने मैरिज सार्टिफिकेट को बताया फर्जी

साक्षी के प्रेम विवाह में आय नया मोड़, मंदिर के महंत ने मैरिज सार्टिफिकेट को बताया फर्जी

बरेली के विधायक राजेश मिश्र की बेटी साक्षी के प्रेम विवाह में नया मोड़ आ गया है। साक्षी ने अजितेश के साथ अपनी शादी का जो विवाह प्रमाणपत्र पेश किया है, उसे ही फर्जी बताया जा रहा है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 12, 2019 11:51 IST
Sakshi and Ajitesh - India TV
Sakshi and Ajitesh 

बरेली के विधायक राजेश मिश्र की बेटी साक्षी के प्रेम विवाह में नया मोड़ आ गया है। साक्षी ने अजितेश के साथ अपनी शादी का जो विवाह प्रमाणपत्र पेश किया है, उसे ही फर्जी बताया जा रहा है। अति प्राचीन राम जानकी मंदिर के महंत परशुराम सिंह ने इस विवाह की जानकारी से ही इन्कार कर शादी के प्रमाण पत्र को ही फर्जी करार दिया है। यह भी कहा कि वह इस मामले में कानूनी मदद लेंगे। बता दें कि दो दिन पहले साक्षी का अजितेश के साथ एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वे अपने पिता राजेश मिश्र उर्फ पप्पू भरतौल पर उन्‍हें डराने और जान से मारने की कोशिश करने का आरोप लगा रही हैं। 

बता दें कि साक्षी के पिता राजेश मिश्र उर्फ पप्पू भरतौल रेली के बिथरी चैनपुर के भाजपा विधायक हैं। साक्षी ने इस वीडियो इसमें बताया था कि उन्‍होंने अनुसूचित जाती के युवक अजितेश से मंदिर में प्रेम विवाह किया है। जिसके चलते पिता और भाई उन्‍हें और उनके पति की तलाश कर रहा है। अनुसूचित जाति के युवक से शादी करने के बाद साक्षी और उसके पति ने हाई कोर्ट की शरण ली है। कोर्ट में साक्षी ने अपनी व अपने पति की जान को खतरा बताते हुए सुरक्षा मांगी है। इन दोनों की तरफ से हाई कोर्ट में अपने विवाह का प्रमाण पत्र प्रस्तुत किया गया है।

महंत ने कहा फर्जी है सर्टिफिकेट 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार साक्षी और अजितेश ने जो मैरिज सर्टिफिकेट पेश किया है वह फर्जी है। इस सर्टिफिकेट में प्रयागराज के बेगम सराय स्थित अति प्राचीन राम जानकी मंदिर में विवाह होने की जानकारी दी गई है। इस प्रमाण पत्र पर साहित्याचार्य कर्मकांड विशेषज्ञ आचार्य विश्वपति जी शुक्ल का नाम दर्ज है। मंदिर के महंत परशुराम सिंह का कहना है कि उनके मंदिर में न कोई शादी होती है और न ही ऐसा प्रमाण पत्र जारी होता है। उन्होंने आचार्य विश्वपति जी शुक्ल के बारे में जानकारी से साफ इन्कार किया। उन्होंने कहा कि इस मंदिर का नाम बदनाम कराया जा रहा है। इस बारे में कानूनी मदद लेंगे।

वीडियो वायरल कर जान का खतरा बताया

बरेली के बिथरी चैनपुर के भाजपा विधायक की बेटी साक्षी दो जुलाई को घर छोड़कर प्रेमी अजितेश के साथ चली गई थीं। चार जुलाई को दोनों ने प्रयागराज में एक मंदिर में शादी कर ली। इसके चार दिन बाद साक्षी ने अजितेश के साथ दो वीडियो वायरल किए जिसमें उसने खुद को जान का खतरा बताया और सुरक्षा मांगी। वीडियो में यह भी कहा गया है कि यदि उन्हें कुछ होता है तो इसके जिम्मेदार पप्पू भरतौल और उनके कुछ सहयोगी होंगे। 

बेटी चाहे जहां रहे, खुश रहे

साक्षी ने जिस युवक अजितेश से शादी की है वह भी एक विधायक का के रिश्तेदार है और बरेली में वीर सावरकर नगर कॉलोनी में रहता है। एक वीडियो में अजितेश ने भी साक्षी के साथ ही खुद को जान का खतरा बताया है और कहा है कि अनुसूचित जाति का होने की वजह से उनका विरोध किया जा रहा है। साक्षी ने वीडियो में किसी राजीव राणा का जिक्र करते हुए कहा कि उनके पिता ने उनकी हत्या के लिए उन्हें ही पीछे लगाया है। इस मामले विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल ने कहा है कि बेटी बालिग है, उसको फैसला लेने का अधिकार है। मैंने या मेरे किसी समर्थक ने कोई धमकी नहीं दी। बेटी चाहे जहां रहे, खुश रहे। 

Related Video
India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban