1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. त्रिपुरा में लाल झंडे को उखाड़ा, यहां लाल टोपी को डुबो देंगे, यह केसरिया वक्त है: योगी

त्रिपुरा में लाल झंडे को उखाड़ा, यहां लाल टोपी को डुबो देंगे, यह केसरिया वक्त है: योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज विधानसभा में समाजवादी पार्टी पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में हमने लाल झंडे को उखाड़ दिया यहां लाल टोपी को डुबो देंगे।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 06, 2018 21:22 IST
Yogi Adityanath- India TV
Image Source : PTI Yogi Adityanath

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज विधानसभा में समाजवादी पार्टी पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में हमने लाल झंडे को उखाड़ दिया यहां लाल टोपी को डुबो देंगे। लाल टोपी का वक्त अब चला गया अब भगवे का वक्त आ गया है। लोकसभा उपचुनाव के लिए सपा-बसपा के बीच तालमेल पर तीखा कटाक्ष करते हुए योगी आदित्यनाथ ने आज कहा कि सपा का बसपा की गोद में जाकर बैठ जाना उसकी 'हताशा और निरीहता' का प्रतीक है। 

योगी ने राज्य विधानसभा में राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव की चर्चा के जवाब में नेता प्रतिपक्ष सपा के राम गोविन्द चौधरी की ओर देखते हुए कहा, ''आप बसपा की गोद में जाकर बैठ जाइये .. ये निरीहता और हताशा नहीं तो क्या है ?'' सपा-बसपा पर तीखा प्रहार करते हुए योगी ने कहा, ''मैं बसपा के नेता लालजी वर्मा से कहना चाहूंगा कि आप स्मारकों के बारे में बात करने आये थे। इनका संरक्षण हम सबका दायित्व है क्योंकि राज्य का पैसा लगा है, चाहे किसी ने भी बनाया हो और चाहे वह डा. भीमराव आंबेडकर का हो या कांशीराम का।’’ उन्होंने कटाक्ष किया, ''वो (सपा) तो ध्वस्त करने की बात कर रहे थे लेकिन हम अपने समय में ध्वस्त नहीं होने देंगे ... ।'' 

योगी ने सपा-बसपा पर निशाना साधते हुए कहा, ''आगे से कोई स्टेट गेस्ट हाउस कांड तो नहीं होने पाएगा। मेरे समय में नहीं हो पाएगा, मैं इस बात की गारंटी लेता हूं।’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यक्ति का बाहरी आवरण बदल जाए लेकिन अपनी प्रवृत्ति से वह नहीं बदलता। उन्होंने कहा, ''कुछ लोग ठेका ले लेते हैं कि हम सुधरेंगे नहीं .. क्यों जबर्दस्ती हम उन्हें सुधारने चलें। बिच्छू का धर्म डंक मारने का है तो वह डंक मारेगा ही।’’ 

उन्होंने कहा कि प्रदेश की 22 करोड़ जनता को सुरक्षा देने, विकास और सुशासन से जोड़ने के लिए हमारी सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है। योगी ने कहा कि सपा-बसपा ने प्रदेश को बांटा है। प्रदेश की राजनीति को परिवारवाद, वंशवाद और जातिवाद के संकीर्ण दायरे में कैद कर प्रदेश को अराजकता की भट्ठी में धकेला है। सपा-बसपा की नीतियां दलितों के लिए नहीं थीं, इनके कार्यक्रम प्रदेश के विकास के लिए नहीं थे, गांव के विकास को लेकर नहीं थे, किसानों और नौजवानों के भविष्य को लेकर नहीं थे। इनकी नीतियां एवं कार्यक्रम प्रदेश के समग्र विकास के लिए नहीं थे। 

उन्होंने कहा,‘‘ हमारी सरकार का प्रयास प्रदेश की 22 करोड़ जनता के जीवन स्तर को ऊपर उठाने का है। उसमें आमूल चूल परिवर्तन करने के लिए है। गांव के विकास और किसानों की आय को दोगुना करने को लेकर है। महिलाओं को सुरक्षा और सशक्तीकरण को लेकर है। गरीबों और वंचितों के साथ साथ समाज के प्रत्येक तबके ​के हितों को संरक्षित करने के लिए है। बाईस करोड जनता की सुरक्षा करने को लेकर है। उन्हीं भावों को लेकर सरकार चल रही है।’’ चौधरी द्वारा भाजपा पर देश को तोडने का आरोप लगाये जाने पर योगी ने पलटवार करते हुए कहा कि भारत अखंड है और अखंड रहेगा। उन्होंने कहा, ''अगर सपा यह सोचती है तो मैं अपील करूंगा कि अपनी इस विघटनकारी प्रवृत्ति को अपने पास तक सीमित रखे। अपनी पार्टी तक सीमित रखे। प्रदेश में अगर इस प्रवृत्ति को फैलाने का कोई प्रयास करेगा तो हम सख्ती से निपटेंगे।’’ 

उन्होंने कहा, ''भाजपा आज देश के अंदर राष्ट्रीय एकता, अखंडता और विकास का पर्याय बनी है। दुनिया का सबसे बडा राजनीतिक दल है ... अपने कार्यकर्ताओं के बल पर .. अपनी विचारधारा के बल पर .. अपने मूल्यों सिद्धांतों के बल पर .. विकास और सुशासन के दम पर।.. हमने परिवारवाद नहीं फैलाया। जातिवाद नहीं फैलाया। हमने मत-मजहब के आधार पर समाज को नहीं बांटा।’’ उन्होंने समाजवादियों को मंथन करने की नसीहत देते हुए कहा कि आज समाजवाद के नाम पर सबसे ज्यादा लोहिया की आत्मा रो रही होगी। 

योगी ने कहा कि राज्य में पिछले 11 महीने में एक भी सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ और होगा भी नहीं। उन्होंने कहा कि आज आतंकवाद रोधी दस्ता (एटीएस) और स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) प्रदेश में बहुत अच्छा कार्य कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि राज्य की पूर्व सरकार अपराधियों को संरक्षण देती थी। उन्होंने कहा सत्ता जब ऐसे लोगों :अपराधियों: को संरक्षण देगी तो पुलिस क्या करेगी। हमने पुलिस और प्रशासन के काम में हस्तक्षेप नहीं किया लेकिन जवाबदेही सुनिश्चित हो रही है। प्रदेश की 22 करोड़ जनता को सुरक्षा देना हमारा नैतिक दायित्व है और हम उसका निर्वहन कर रहे हैं। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment