1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. दिल्‍ली मेट्रो से भी आधुनिक है नोएडा मेट्रो, दिव्‍यांगों और वृद्धों के लिए होंगे ये खास इंतजाम

दिल्‍ली मेट्रो से भी आधुनिक है नोएडा मेट्रो, दिव्‍यांगों और वृद्धों के लिए होंगे ये खास इंतजाम

नोएडा मेट्रो को दिल्ली मेट्रो से भी आधुनिक बताया जा रहा है। इसमें टिकटिंग सिस्टम से लेकर यात्री सुविधा तक कई प्रकार के आधुनिक इंतजाम किए गए हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 25, 2019 10:58 IST
Aqua Line Metro- India TV
Image Source : NMRC Aqua Line Metro

लंबे इंतजार के बाद आज से नोएडा मेट्रो पटरी पर उतर गई है। यूपी के अत्‍याधुनिक जुड़वा शहर नोएडा और ग्रेटर नोएडा आज से सबसे तेज परिवहन माध्‍यम से जुड़ गए हैं। नोएडा मेट्रो को दिल्‍ली मेट्रो से भी आधुनिक बताया जा रहा है। इसमें टिकटिंग सिस्‍टम से लेकर यात्री सुविधा तक कई प्रकार के आधुनिक इंतजाम किए गए हैं। (नोएडा और ग्रेटर नोएडा के इन इलाकों में दौड़ेगी एक्वा लाइन मेट्रो, ये रही पूरी जानकारी)

नोएडा मेट्रो के एक्‍जिक्‍यूटिव डायरेक्‍टर पीडी उपाध्‍याय ने बताया कि नोएडा मेट्रो में अब तक की सबसे आधुनिक तकनीक को शामिल किया गया है। मेट्रो में महिलाओं, बच्‍चों और वरिष्‍ठ नागरिकों के लिए अलग इंतजाम किए गए हैं। इनके लिए 16 सीटें रिजर्व की गई हैं। दिव्‍यांगों के लिए नीले रंग की सीटें होंगी। इसके अलावा मोबाइल चार्जर की सुविधा भी हर डिब्‍बे में रहेगी। साथ ही हर डिब्‍बे में यात्री सुरक्षा के लिए 3-3 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। 

वीडियो में जानिए क्‍या है नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो का रूट, कहां से मिलेगी कनेक्टिविटी

Aqua Line Metro

Aqua Line Metro

एक्वा लाइन मेट्रो की 20 खास बातें-

 

1. एक्वा लाइन मेट्रो शुरू होने के बाद दिल्ली-NCR का मेट्रो नेटवर्क शंघाई, बीजिंग और लंदन के बाद दुनिया का चौथा सबसे बड़ा मेट्रो नेटवर्क बन जाएगा।

2. एक्वा लाइन की कुल लंबाई 29.707 किलोमीटर है। इस लाइन में कुल 21 स्टेशन होंगे, 15 नोएडा में और 6 ग्रेटर नोएडा में पड़ेंगे।

3. एक्वा लाइन मेट्रो हर मामले में ब्लू लाइन से ज्यादा अडवांस हैं। सिक्यॉरिटी से लेकर सुविधाओं तक इसमें एक के बाद एक अडवांस टेक्नॉलजी का इस्तेमाल किया गया है।
4. एक्वा लाइन विकास के लिए महत्वपूर्ण है और पर्यावरण को सुधारने में इसका योगदान रहेगा।
5. नोएडा और ग्रेटर नोएडा के निवासियों को ट्रांसपोर्ट की वर्ल्ड क्लास सुविधा मिलेगी।
6. सुरक्षा के हिसाब से एक्वा लाइन अच्छी है और कनेक्टिविटी की भी बेहतर सुविधा मिलेगी।

कितनी होगी मेट्रो की टिकट, जानिए पूरी जानकारी 

7. यात्रियो को हर मेट्रो स्टेशन से फीडर बस और ई-रिक्शा की सुविधा मिलेगी।
8. ओला-उबर और अन्य टैक्सी सेवाओं के लिए स्पेशल टैक्सी स्टैंड की सुविधा होगी।
9. नोएडा-ग्रेटर नोएडा के बीच के ग्रमीण क्षेत्र का विकास होगा और ग्रामीण क्षेत्र भी मेट्रो से जुड़ेगा।
10. प्रतिदिन 65 हजार से एक लाख यात्रियों के यात्रा करने की संभावना है।
11. एक्वा लाइन का न्यूनतम किराया 10 रुपये और अधिकतम 50 रुपये है।
12. यहां टोकन की जगह पेपर टिकट की व्यवस्था है।
13. प्री टिकट बुक के लिए मोबाइल एप की व्यवस्था है
14. एसबीआई के सहयोग से नया यूनिक स्मार्ट कार्ड लॉन्च होगा।
15. स्मार्ट कार्ड का इस्तेमाल नगर बसों का किराया देने, पार्किंग शुल्क देने और यहां तक कि इसे शॉपिंग मॉल में डेबिट कार्ड के रूप में भी इस्तेमाल कर सकेंगे।
16. यह कार्ड कोच्चि और नागपुर मेट्रो तथा अन्य आगामी मेट्रो सेवाओं में भी काम करेगा, लेकिन इसका उपयोग दिल्ली मेट्रो में नहीं किया जा सकेगा।
17. एक्वा लाइन के शुरू होने से नोएडा और ग्रेटर नोएडा में रहने वाले लोगों को दिल्ली आने-जाने में आसानी होगी।
18. माना जा रहा है कि एक्वा लाइन में सबसे ज्यादा स्टूडेंट्स ही सफर करेंगे इसलिए उनके लिए यह मेट्रो लाइफ लाइन बनेगी।
19. स्टेशन में एंट्री करने के बाद 90 मिनट के अंदर स्टेशन से बाहर होना पड़ेगा। उससे ज्यादा समय लगा तो आपके स्मार्ट कार्ड से एग्जिट होने के दौरान पेनल्टी कट जाएगी और यह पेनल्टी 10 रुपये घंटे के हिसाब से रखी गई है।
20. एनएमआरसी ने जो स्मार्ट कार्ड तैयार कराया है, वह सिर्फ उन्हीं लोगों को मिल पाएगा जिनके पास वोटर कार्ड, डीएल या पासपोर्ट हैं। आधार कार्ड भी इसमें मान्य नहीं है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment