1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. पुलिस ने गिरफ्तार किए 4 फर्जी पत्रकार, अवैध वसूली करके की थी करोड़ों की काली कमाई

पुलिस ने गिरफ्तार किए 4 फर्जी पत्रकार, अवैध वसूली करके की थी करोड़ों की काली कमाई

इन पर आरोप है कि वे पत्रकार होने का दावा कर अवैध वसूली करते थे और अपने हित साधने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों पर दबाव बनाते थे।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: August 25, 2019 7:50 IST
Four 'journalists' arrested for 'motivated' content in Noida of Uttar Pradesh- India TV
Four 'journalists' arrested for 'motivated' content in Noida | Twitter

नोएडा: उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिले की थाना बीटा-2 पुलिस ने 4 फर्जी पत्रकारों को गिरफ्तार किया। इन पर आरोप है कि वे पत्रकार होने का दावा कर अवैध वसूली करते थे और अपने हित साधने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों पर दबाव बनाते थे। गिरफ्तार किए गए सुशील पंडित, उदित गोयल, चंदन राय व नीतीश पांडे को एक अदालत ने 5 दिन की हिरासत में भेज दिया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के मीडिया प्रभारी राकेश भदौरिया ने बताया कि चारों लोगों को शनिवार को जिला अदालत में पेश किया गया। पुलिस के आग्रह पर अदालत ने चारों को 5 दिन के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया।

एक साथी अभी भी फरार

मीडिया प्रभारी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों से हिरासत के दौरान विभिन्न बिंदुओं पर गहनता से पूछताछ की जाएगी, तथा यह पता लगाने का प्रयास किया जाएगा कि अब तक इन लोगों ने कितने लोगों के साथ सांठगांठ करके कितने की काली कमाई की है। इससे पहले, पुलिस ने बताया कि इनका एक साथी अभी फरार है। उसकी गिरफ्तारी पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। गिरफ्तार फर्जी पत्रकारों में 2 इससे पूर्व भी जेल जा चुके हैं। 


गैंगस्टर ऐक्ट के तहत हुई गिरफ्तारी
पुलिस के अनुसार पूछताछ के दौरान पकड़े गए आरोपियों ने कई पुलिसवालों, प्रशासनिक अधिकारियों, प्राधिकरण के अधिकारियों, तथा नेताओं से सांठगांठ कर करोड़ों रुपये की कमाई करने की बात स्वीकार की है। गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारी बृजेश नारायण सिंह ने बताया कि पत्रकारिता की आड़ में एक संगठित गिरोह बनाकर, अवैध धनोपार्जन करने, तथा प्रशासनिक अधिकारियों पर दबाव बनाकर अपने हित साधने वाले गिरोह के चार लोगों को थाना बीटा दो पुलिस ने शुक्रवार देर रात को गिरफ्तार किया। इनकी गिरफ्तारी गैंगस्टर कानून के तहत हुई है। उन्होंने बताया कि इनका एक साथी रमन ठाकुर अभी फरार है।

अलग-अलग शहरों से गिरफ्तार हुए आरोपी
उन्होंने बताया कि यह गिरोह मुख्य रूप से गौतम बुद्ध नगर, गाजियाबाद व लखनऊ में सक्रिय था। उन्होंने बताया कि यह गिरोह दो प्रकार से अपना कार्य संपादित करता था। इस गिरोह के सदस्य सरकारी सेवकों, विशेषकर पुलिस अधिकारियों को अनुचित आर्थिक लाभ का प्रलोभन देकर व्यक्ति विशेष के पक्ष में कार्य करने के लिए प्रेरित करते थे। जिलाधिकारी ने बताया कि दो कथित पत्रकारों की गिरफ्तारी नोएडा से, एक की गाजियाबाद से, तथा एक की लखनऊ से हुई है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों के कार्यालयों को सील कर दिया गया है। (भाषा)

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment