1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. दारूल उलूम देवबंद ने जारी किया नया फतवा: बारात में औरतों का जाना नाजायज

दारूल उलूम देवबंद ने जारी किया नया फतवा: बारात में औरतों का जाना नाजायज

देवबंद स्थित इस्लामिक शिक्षण संस्थान दारूलउलूम ने महिलाओं को लेकर नया फतवा जारी करते हुए बारात में उनके जाने को नाजायज करार दिया है। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: December 26, 2018 20:12 IST
दारूल उलूम देवबंद ने जारी किया नया फतवा: बारात में औरतों का जाना नाजायज- India TV
दारूल उलूम देवबंद ने जारी किया नया फतवा: बारात में औरतों का जाना नाजायज

सहारनपुर: देवबंद स्थित इस्लामिक शिक्षण संस्थान दारूल उलूम ने महिलाओं को लेकर नया फतवा जारी करते हुए बारात में उनके जाने को नाजायज करार दिया है। इससे पहले दारूलउलूम देवबंद ने विवाह समारोह में महिलाओं और पुरूषों के एक साथ खाना खाने को नाजायज बताया था। 

देवबंद के ग्राम फुलासी निवासी नजम गौड़ ने दारूलउलूम देवबंद के इफता विभाग से सवाल किया था कि आमतौर पर घर से निकाह के लिये जब दूल्हा बारात लेकर निकलता है तो बारात में नाच गाने के साथ ही परिवारों और रिश्तेदारों के साथ-साथ जान पहचान की महिलाएं भी शामिल होती हैं। क्या इस तरह की बारात ले जाने की शरीयत इजाजत देता है। 

इसके जबाव मे दारूल उलूम ने जारी फतवे में कहा कि ढोल बाजे तथा महिलाओं व पुरुषों का एक साथ बारात में जाना शरीयत इस्लाम में नाजायज है, इससे बचना चाहिये। फतवे में यह भी कहा गया है कि यदि दुल्हन को रूखसत कराने के लिये जाना हो तो दूल्हे के साथ घर के दो या तीन लोगों का जाना ही काफी है। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment