1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. सुरेंद्र सिंह हत्‍याकांड: अमेठी पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, 3 आरोपी गिरफ्तार, पूछताछ जारी

सुरेंद्र सिंह हत्‍याकांड: अमेठी पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, 3 आरोपी गिरफ्तार, पूछताछ जारी

अमेठी की सांसद स्मृति ईरानी के करीबी सहयोगी और बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह की हत्या के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पिछले 24 घंटों में ताबड़तोड़ छापे मारने के बाद पुलिस ने 3 नामजद आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: May 27, 2019 15:25 IST
Surendra Singh - India TV
Surendra Singh 

अमेठी की सांसद स्‍मृति ईरानी के करीबी सहयोगी और बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह की हत्‍या के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पिछले 24 घंटों में ताबड़तोड़ छापे मारने के बाद पुलिस ने 3 नामजद आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अमेठी पूर्व प्रधान हत्याकांड में पुलिस ने नसीम, धर्मराज गुप्ता और राम चन्द्र पासवान को गिरफ्तार किया है। पुलिस अभी इन आरोपियों से पूछताछ कर रही है। हत्‍या की वजह कोई पुरानी रंजिश थी या फिर प्रधानी का चुनाव, अभी इस बारे में स्‍पष्‍ट जानकारी नहीं मिल पाई। पुलिस इसी पहलू को ध्‍यान में रखकर पूछताछ कर रही है, जिससे हत्‍या के कारण का सही सही पता चल सके। 

बता दें कि शनिवार को रात 11.30 बजे अमेठी से नवनिर्वाचित सांसद स्मृति ईरानी के करीबी माने जाने वाले बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान की अज्ञात बदमाशों ने गोली मार दी थी। घायल सुरेंद्र सिंह को लखनऊ स्थित ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया, जहां उन्‍होंने दम तोड़ दिया। अपने करीबी की हत्या से स्तब्ध ईरानी कल दोपहर ही पूर्व ग्राम प्रधान के घर पहुंचीं और परिजनों को ढाढस बंधाया। स्मृति ईरानी सुरेन्द्र सिंह की अंतिम यात्रा में शामिल हुईं। 

स्‍मृति ने सुरेन्द्र सिंह के पार्थिव शरीर को कंधा भी दिया। इस दौरान वह काफी भावुक भी हो गयीं। उन्होंने मीडिया से बातीचीत करते हुए कहा, “मैंने सुरेंद्र सिंह जी के परिवार के सामने ये कसम खाई है कि जिसने उन्हें गोली मारी है औऱ जिसने मरवाई है, उसे मैं मृत्युदंड दिलाकर रहूंगी, चाहे इसके लिए मुझे सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़े।”

इस मामले पर लखनऊ में उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह ने कहा, ''हमें पुरानी रंजिश का पता चला है। हम ये भी पता कर रहे हैं कि कहीं कोई राजनीतिक दुश्मनी तो नहीं थी । यूपी पुलिस की टीम सघन जांच कर रही हैं । अब तक हमने सात लोगों को हिरासत में लिया है। हमें इलेक्ट्रानिक सर्विलांस से कुछ महत्वपूर्ण तथ्य भी मिले हैं।''

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment