1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. अलीगढ़ 'बेबी' मर्डर केस: चौथी आरोपी महिला गिरफ्तार, वकीलों ने आरोपियों का केस लड़ने से किया इंकार

अलीगढ़ 'बेबी' मर्डर केस: चौथी आरोपी महिला गिरफ्तार, वकीलों ने आरोपियों का केस लड़ने से किया इंकार

अलीगढ के टप्पल में ढाई साल की बच्ची की निर्मम हत्या के मामले में पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने इस मामले में तीसरे आरोपी मेंहदी हसन को गिरफ्तार कर लिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: June 08, 2019 13:38 IST
Aligarh- India TV
Aligarh

अलीगढ़। अलीगढ के टप्पल में ढाई साल की बच्‍ची की निर्मम हत्‍या के मामले में पुलिस को दो बड़ी सफलता मिली हैंं। पुलिस ने इस मामले में दो और आरोपियोंं को गिरफ्तार किया है। इसमें एक महिला शामिल है। इससे पहले आज सुबह पुलिस ने मेंहदी हसन को गिरफ्तार किया। अलीगढ एसएसपी ने आरोपी की गिरफ्तार की पुष्टि कर दी है। इससे पहले पुलिस ने कल दो अन्‍य आरोपियों को गिरफ्तार किया था। पुलिस के अनुसार आरोपी जाहिद एवं असलम ने जुर्म कबूल लिया है। दूसरी बारे अलीगढ़ सहित पूरे देश में इस हत्‍या को लेकर आक्रोश व्‍याप्‍त है। अलीगढ़ के वकीलों ने आरोपियों की ओर से केस लड़ने से इंकार कर दिया है। अलीगढ़ बार एसोसिएशन के सचिव अनूप कौशिक ने बताया कि बार एसोसिएशन की मीटिंग में ये फैसला लिया गया है की कोई भी अधिवक्ता आरोपियों का केस नहीं लड़ेगा बल्कि उनको फांसी तक पहुँचाने का प्रयास कराया जाएगा। 

बता दें कि अलीगढ़ के टप्‍पल में एक ढाई साल की बच्‍ची 30 मई को गायब हो गई थी। पुलिस को उसका क्षत विक्षत शव दो जून को उसके घर के निकट ही कूड़े के पास मिला। बात सामने आते ही अलीगढ़ सहित देश भर में इस जघन्‍य घटना को लेकर आक्रोश फैल गया। इसके बाद आनन फानन में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक दो गिरफ्तार आरोपियों जाहिद एवं असलम ने जुर्म कबूला है और महज 10 हजार रूपये के लिए इस अपराध को अंजाम दिया गया है। यह रकम बच्ची के पिता ने उधार ली थी और वह उसे वापस नहीं कर पा रहे थे।

पिता ने की फांसी की मांग 

इस मामले में बच्ची के पिता ने गुनहगार को फांसी की सजा की मांग की है। बच्ची के पिता ने कहा कि मेरी बेटी को इंसाफ मिले, गुनहगार को ऐसी सजा मिले की वो सौ बार सोचे। उन्होनें कहा कि फांसी की सजा के बाद भी मेरा दर्द कम नही होगा। इस झकझोर देने वाली वारदात में लापरवाही बरतने के आरोप में सम्बन्धित थाना प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश कुलहरि ने बताया कि पुलिस क्षेत्राधिकारी पंकज श्रीवास्तव द्वारा की गयी जांच के आधार पर गुरूवार को थाना प्रभारी समेत पांच पुलिसकर्मियों के निलंबन की कार्रवाई की गयी है। उन्होंने बताया कि मामले की आगे जांच के लिए पुलिस अधीक्षक ग्रामीण एवं एक महिला इंस्पेक्टर सहित छह सदस्यीय विशेष जांच टीम (एसआईटी) बनायी गयी है। इस बीच, लखनऊ में अपर पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार ने बताया कि बच्ची का शव उसकी मौत के 72 घंटे बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।

देश भर में दिखा आक्रोश 

बच्‍ची की हत्‍या के बाद राजनीति से लेकर सिनेमाजगत की हस्तियों ने मौत पर दुख जताया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘अलीगढ़ में बच्ची की भयावह हत्या से वह सदमे में हैं। कोई भी मनुष्य एक बच्चे से ऐसी बर्बरता कैसे कर सकता है... उत्तर प्रदेश पुलिस को हत्यारों को दंडित करने के लिए तेजी से कार्रवाई करनी चाहिए।’’ राहुल की बहन एवं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बर्बर हत्या को अमानवीय बताया। उन्होंने कहा कि एक निर्दोष बच्ची के खिलाफ ऐसा अपराध हुआ है जो अकथनीय है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने लखनऊ में एक बयान में कहा कि राज्य में कानून का राज स्थापित करने के लिए प्रदेश सरकार को तत्काल कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए और दोषियों को सलाखों के पीछे पहुंचाना चाहिए। फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार ने कहा कि ऐसे जघन्य अपराध के लिए तत्काल और कड़े से कड़ा दंड देने की आवश्यकता है। एक अन्य सिने अभिनेता अभिषेक बच्चन ने ट्वीट किया कि कोई इस तरह का अपराध करने की कैसे सोच भी सकता है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment