1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. एक कोना छोड़ दीजिए तो बाकी सब बंगला वैसे ही है, स्विमिंग पूल था ही नहीं: अखिलेश यादव

एक कोना छोड़ दीजिए तो बाकी सब बंगला वैसे ही है, स्विमिंग पूल था ही नहीं: अखिलेश यादव

अखिलेश ने ये भी कहा कि उन्होंने रहने के लिये अपनी पसन्द से घर बनवाया था। स्टेडियम मेरा था, स्टील स्ट्रक्चर मेरा था, वो खोल कर मैं ले गया लेकिन लकड़ी का फ्लोर वहीं है। एक कोना छोड़ दीजिए तो बाकी सब बंगला वैसे ही है।

Written by: IndiaTV Hindi Desk [Updated:13 Jun 2018, 2:00 PM IST]
Akhilesh Yadav on bungalow controversy- India TV
एक कोना छोड़ दीजिए तो बाकी सब बंगला वैसे ही है, स्विमिंग पूल था ही नहीं: अखिलेश यादव

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के सरकारी बंगले में तोड़फोड़ का मामला बड़ा हो गया है। राज्यपाल राम नाईक ने इस मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से कार्रवाई करने की सिफारिश करने के बाद अखिलेश यादव ने मीडिया को संबोधित किया। अखिलेश ने कहा कि वो घर मुझे मिलने जा रहा था, इसलिए मैंने उसे अपने तरीके से बनाने का काम किया था। अखिलेश ने कहा कि आपने मेरे घर की टोंटी दिखाई, क्या मुख्यमंत्री के ओएसडी वहां पर गए थे और उनके अलावा भी कई अधिकारी ने वहां का दौरा किया था।

उन्होंने कहा कि जब घर मुझे मिला था तब कैसा था यह मेरी फ़ेसबुक पर देख लीजिए। स्विमिंग पूल के सवाल पर उन्होंने कहा कि वह वहां कभी था ही नहीं। मेरे घर एक साल में एक हज़ार बच्चे आये। आप उन बच्चो से पूछ लो कि क्या मेरे घर मे कभी स्विमिंग पूल था। अखिलेश पीसी में अपने साथ दो नल की टोटी भी लेकर आये थे और कहा कि सरकार बता दे कि कितनी टोटी गायब हुई है, मैं दे दूंगा।

अखिलेश ने ये भी कहा कि उन्होंने रहने के लिये अपनी पसन्द से घर बनवाया था। स्टेडियम मेरा था, स्टील स्ट्रक्चर मेरा था, वो खोल कर मैं ले गया लेकिन लकड़ी का फ्लोर वहीं है। एक कोना छोड़ दीजिए तो बाकी सब बंगला वैसे ही है। एक भी बेडरूम टूटा हो तो बताओ। ये नफरत की राजनीति है। जो सामान मैं ले गया वो सब मेरा था।

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर यूपी के सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगला खाली करना पड़ा था। इसी के तहत अखिलेश यादव ने भी अपना बंगला खाली किया है लेकिन आरोप है कि बंगला खाली करने से पहले अखिलेश यादव ने बंगले को उजाड़ कर रख दिया है। मीडिया में आई तस्वीरें इस आरोप की तस्दीक करती हैं। तस्वीरों में देखा जा सकता है कि किस तरह बंगले में तोड़फोड़ की गई। बंगले से एसी उखाड़ लिए गए हैं, जहां-तहां से तार खींच लिए गए हैं तो बाहर लॉन में बने स्वीमिंग पुल को पूरी तरह से भर दिया गया है।

मीडिया में जब ये खबर चली तो अखिलेश ने कहा कि वो नुकसान की भरपाई कर देंगे। दरअसल, मीडिया में खबर आने के बाद राज्यपाल राम नाईक ने राज भवन में राज्य संपत्ति विभाग के अफसरों की मीटिंग बुलाई थी। उन्होंने उन सभी मकानों के बारे में रिपोर्ट मांगी जिनको पांच पूर्व मुख्यमंत्रियों ने खाली किया है। इनमें अखिलेश यादव के घर में हुई तोड़फोड़ को लेकर राज्यपाल काफी नाराज थे।

बताया जा रहा है कि अखिलेश के पूरे घर की वीडियोग्राफी कराई गई है। वहां कौन-कौन से सरकारी सामान लगे थे और क्या-क्या निकाल लिए गए हैं इसकी एक लिस्ट तैयार हो रही है। जांच पूरी हो जाने के बाद कानूनी राय ली जाएगी जिसके बाद अखिलेश को रिकवरी नोटिस भेजी जाएगी। सरकारी बंगले को खाली करने से पहले वहां तोड़फोड़ करने को लेकर सोशल मीडिया में भी अखिलेश यादव का खूब मजाक उड़ रहा है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: एक कोना छोड़ दीजिए तो बाकी सब बंगला वैसे ही है, स्विमिंग पूल था ही नहीं: अखिलेश यादव - Akhilesh Yadav on bungalow controversy
Write a comment