1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. व्यापमं घोटाले की जांच नए सिरे से होगी, लाखों बेरोजगारों की जेब से पैसा निकाला : राहुल गांधी

व्यापमं घोटाले की जांच नए सिरे से होगी, लाखों बेरोजगारों की जेब से पैसा निकाला : राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मध्य प्रदेश में हुए व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) घोटाले की नए सिरे से जांच होगी। 

IANS IANS
Published on: May 01, 2019 23:33 IST
Rahul gandhi- India TV
Image Source : PTI Rahul gandhi

होशंगाबाद: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को यहां कहा कि मध्य प्रदेश में हुए व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) घोटाले की नए सिरे से जांच होगी। होशंगाबाद-नरसिहपुर संसदीय क्षेत्र के पिपरिया में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा, "व्यापमं घोटाले की नए सिरे से जांच होगी, जिसमें भाजपा नेताओं ने लाखों बेरोजगारों की जेब से पैसा निकाला।" गांधी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ की ओर इशारा करते हुए जांच कराने को कहा।

ज्ञात हो कि राज्य में हुए व्यापमं घोटाले की जांच एसटीएफ, एसआईटी से होती हुई सीबीआई के पास पहुंची है। इस मामले में कई भाजपा नेता व अफसर जेल जा चुके हैं। वर्तमान में अधिकांश जेल से बाहर हैं।

गांधी ने कहा, "2019 के चुनाव के बाद देश में कानून बदल जाएगा और देश के किसी भी कोने का किसान कर्जा न चुकाने के कारण अब जेल में नहीं जाएगा। जब उद्योगपति हजारों करोड़ रुपये लेकर बाहर रहते हैं, और उन्हें जेल नहीं भेजा जाता तो किसानों को भी जेल नहीं भेजा जाएगा। कांग्रेस ने अपने घोषणा-पत्र में यह वादा किया है। इतना ही नहीं कांग्रेस की सरकार आमबजट से पहले किसानों के लिए बजट लाएगी। इस बजट में किसानों की सुविधा, दाम और अन्य बातों का जिक्र होगा।"

गांधी ने कहा, "केंद्र सरकार की नौकरियों में लोकसभा, राज्यसभा और विधानसभाओं में 33 प्रतिशत आरक्षण महिलाओं को देने जा रहे हैं। कोई भी नौजवान जो बिजनेस शुरू करना चाहता है, उसे किसी सरकारी विभाग से अब परमीशन लेने की जरूरत नहीं होगी। जब उसका बिजनेस अच्छी तरह चलने लगेगा और उसकी जेब में पैसा आने लगेगा, तब उसे तीन साल बाद सरकारी विभागों से परमीशन लेना पड़ेगा।"

उन्होंने आगे कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर व्यक्ति के खाते में 15 लाख रुपये डालने, दो करोड़ युवाओं को हर साल नौकरी देने का वादा किया था, मगर वादा पूरा नहीं हुआ। इसी के चलते छत्तीसगढ़ के लोगों ने चौकीदार कहने पर उसके साथ चोर जोड़ दिया और नया नारा बन गया था।"

गांधी ने आगे कहा, "यह नारा कांग्रेस या हमारा नहीं है, बल्कि देश के गरीब, किसान, युवा, मजदूर और महिलाओं के दिल से निकली आवाज है। देश की जनता का यह नारा है और प्यारा है।"

नोटबंदी और जीएसटी को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए गांधी ने कहा, "केंद्र की मोदी सरकार ने नोटबंदी और गब्बर सिह टैक्स (जीएसटी) के जरिए देश की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया, बेरोजगारी बढ़ा दी, मगर कांग्रेस ने तय किया है कि सत्ता में आते ही न्याय योजना के जरिए गरीबों के खाते में 6000 रुपये माह और 72 हजार रुपये साल जमा किए जाएंगे। यह राशि तब तक मिलेगी, जब तक परिवार की आमदनी 12 हजार रुपये माह नहीं हो जाती। गरीबों के खाते में इस राशि के आते ही जहां बाजार में दुकानों में खरीदी होने लगेगी, फैक्टरी में उत्पादन होगा और युवाओं को रोजगार मिलेगा तो देश की अर्थव्यवस्था सुधर जाएगी।"

राहुल ने कहा, "कांग्रेस न्याय योजना के लिए पैसा मध्यम वर्ग से नहीं लेगी, बल्कि विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी सहित अन्य उद्योगपतियों की जेब से पैसा निकालकर न्याय योजना के तहत लोगों की जेबों में डाला जाएगा। नरेंद्र मोदी ने 15 लाख रुपये देने का झूठ लोगों से बोला। 15 लाख रुपये खाते में नहीं डाले जा सकते, मगर तीन लाख 60 हजार रुपये पांच साल में बैंक खातों में डाले जा सकते हैं।"

कांग्रेस अध्यक्ष ने पहले पुलवामा में हुए आतंकी हमले और बुधवार को महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में महाराष्ट्र पुलिस के सी-60 कमांडो पर हुए नक्सली हमले को लेकर भाजपा पर सवाल उठाते हुए कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आंतरिक सुरक्षा की बात करते हैं, मगर पुलवामा में आतंकी हमला हुआ, केंद्र में किसी सरकार है? महाराष्ट्र में नक्सली हमला हुआ वहां किसकी सरकार है। दोनों जगह भाजपा की सरकारें हैं। प्रधानमंत्री इस बारे में कुछ क्यों नहीं कहते।"

होशंगाबाद में पांचवें चरण में छह मई को मतदान होगा, और मतों की गिनती 23 मई को होगी।

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban