1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. शंकर सिंह वाघेला ने इंडिया टीवी कॉन्क्लेव में कहा, 'राहुल गांधी के सॉफ्ट हिंदुत्व लाइन से गुजरात में कांग्रेस को मदद नहीं मिलेगी'

शंकर सिंह वाघेला ने इंडिया टीवी कॉन्क्लेव में कहा, 'राहुल गांधी के सॉफ्ट हिंदुत्व लाइन से गुजरात में कांग्रेस को मदद नहीं मिलेगी'

गुजरात के सीनियर नेता शंकर सिंह वाघेला ने आज कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का 'सॉफ्ट हिंदुत्व' लाइन गुजरात में कांग्रेस पार्टी को वोट दिला पाने में मदद नहीं करेगा।

Written by: IndiaTV Hindi Desk [Updated:28 Nov 2017, 10:56 PM IST]
Shankar Singh Vaghela- India TV
Shankar Singh Vaghela

अहमदाबाद: गुजरात के सीनियर नेता शंकर सिंह वाघेला ने आज कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का 'सॉफ्ट हिंदुत्व' लाइन गुजरात में कांग्रेस पार्टी को वोट दिला पाने में मदद नहीं करेगा।कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद जन विकास मोर्चा का गठन करनेवाले वाघेला ने यहां इंडिया टीवी के मेगा कॉन्क्लेव 'चुनाव मंच' में रजत शर्मा के सवालों का जवाब देते हुए कहा, 'उन्हें (राहुल) मंदिरों में जानें दें लेकिन उन्हें मस्जिद में भी जाना चाहिए'।

उन्होंने कहा, 'इसका क्रेडिट नरेंद्र भाई (मोदी) को जाता है जिन्होंने न केवल कांग्रेस को पार्टी के स्तर पर माइनॉरिटी बना दिया बल्कि माइनॉरिटी की पार्टी भी बना दिया। कांग्रेस को माइनॉरिटीज से दूर नहीं होना चाहिए था।' 'हिंदी में एक कहावत है कि अगर कौआ हंस की तरह चलने लगे तो वह हंस नहीं हो जाता बल्कि वह कौआ ही रहता है।'

यह पूछे जाने पर कि गुजरात चुनाव में कैसी संभावनाएं नजर आ रही हैं, वाघेला ने कहा, अपने भाग्य का फैसला करने में मतदाता खुद सक्षम हैं।'

वाघेला ने आरोप लगाया, 'ऐसा लगता है कि गुजरात में कांग्रेस के नेताओं ने बीजेपी को फिर से सत्ता प्राप्त करने में मदद के लिए सुपारी ले रखी है'।

'चुनाव के लिए कांग्रेस ने कोई गंभीर होमवर्क नहीं किया, अन्यथा टिकट बंटवारे को लेकर कार्यकर्ता पार्टी दफ्तर में तोड़फोड़ नहीं करते। समय सीमा खत्म होने से ठीक पहले टिकट बांटे गए।' 

यह पूछे जाने पर कि क्या विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को जीत मिलेगी, वाघेला ने कहा: 'मुझे ऐसा नहीं लगता।'

जब रजत शर्मा ने यह पूछा कि उनके मोर्चे को वोट कटवा के रूप में माना जा रहा है, वाघेला ने कहा; 'हमें अपने मतदाताओं की बेईज्जती नहीं करनी चाहिए। मैं इस मोर्चे के जरिए एक प्रयोग कर रहा हूं। यह प्रयोग चुनाव के बाद भी जारी रहेगा।'

वाघेला ने यह भविष्यवाणी की, 'हार्दिक पटेल, अल्पेश ठाकोर और जिग्नेश मेवाणी जैसे नेता चुनाव के बाद कहीं नहीं रहेंगे। पाटीदार समाज किसी एक पार्टी को वोट नहीं करेगा।'

पूर्व कांग्रेस नेता ने कहा, 'भारत की सबसे पुरानी पार्टी को इन युवा नेताओं के तलवे चाटने पड़ रहे हैं। कांग्रेस ने इन युवा नेताओं के साथ बिठाकर राहुल गांधी के कद को घटाने का काम किया है।'

वाघेला ने कहा, 'राहुल गांधी को पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए था।' डोकलॉम विवाद पर उन्होंने कहा, 'भारत को चीन पर कभी विश्वास नहीं करना चाहिए, उसकी नजर अरुणाचल प्रदेश पर बनी हुई है।' हमसभी को एकजुट होकर अपनी सरकार की मदद करनी चाहिए।'

वाघेला ने कहा, अगर राहुल गांधी पार्टी के अध्यक्ष बनाए जाते हैं तो इससे कांग्रेस को फायदा होगा। 'इस कदम से पार्टी को मदद मिलेगी क्योंकि वहां कोई पावर सेंटर नहीं है।' 

गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि विधानसभा चुनाव में बीजेपी करीब 500 करोड़ और कांग्रेस करीब 300 करोड़ रुपये खर्च कर रही है।  उन्होंने कहा, 'मैं यह जानता चाहता हूं कि वे इतने पैसे कहां से ला रहे हैं। मैं दोनों दलों से यह जनना चाहता हूं। मैंने अपने पूरे जीवन में किसी उद्योगपति से पैसा नहीं लिया।'

देखिए वीडियो-

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019