1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. राहुल ने राफेल पर PM को बहस की चुनौती दी, कहा- 'मोदी एक सेकेंड भी मेरे सवालों के आगे टिक नहीं पाएंगे'

राहुल ने राफेल पर PM को बहस की चुनौती दी, कहा- 'मोदी एक सेकेंड भी मेरे सवालों के आगे टिक नहीं पाएंगे'

राफेल विमान सौदे में कथित भ्रष्टाचार को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अपना हमला तेज करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उन्हें इस मुद्दे पर बहस की आज चुनौती दी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: August 13, 2018 21:31 IST
Rahul gandhi dares pm modi to debate on Rafale- India TV
Rahul gandhi dares pm modi to debate on Rafale

बीदर (कर्नाटक): राफेल विमान सौदे में कथित भ्रष्टाचार को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अपना हमला तेज करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उन्हें इस मुद्दे पर बहस की आज चुनौती दी। उन्होंने दावा किया कि वह इस मुद्दे पर उनके सवालों का जवाब नहीं दे पाएंगे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ने भाजपा शासित राज्यों में बच्चियों से बलात्कार की हालिया घटनाओं, कृषि ऋण माफी और जीएसटी सहित कई मुद्दों पर मोदी पर निशाना साधा। राहुल ने कहा कि आप जितनी भी लंबी बहस चाहते हैं, एक बहस होने दीजिए...नरेंद्र मोदी एक सेकेंड भी उनके सवालों के आगे टिक नहीं पाएंगे क्योंकि नरेंद्र मोदी ने भारत से चुराया है।

उन्होंने एक जन ध्वनि नाम की जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘नरेंद्र मोदी ने अपने दोस्त अनिल अंबानी को अनुबंध हासिल करने में मदद की, जिनकी कंपनी का विमान बनाने का कोई अनुभव नहीं है। अनुबंध पर हस्ताक्षर किए जाने से 10 दिन पहले यह कंपनी बनाई गई।’’ हालांकि, अंबानी समूह ने कल इस बात से इनकार किया था कि उसे रक्षा मंत्रालय से कोई अनुबंध मिला है और कहा कि लोगों को गुमराह करने के लिए बेबुनियाद और गलत आरोप लगाए जा रहे हैं।

राहुल ने कहा कि पिछली यूपीए सरकार ने जिस अनुबंध पर हस्ताक्षर किया था उसके मुताबिक सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) प्रौद्योगिकी हस्तांतरण के जरिए विमान बना सकती थी और कर्नाटक के युवाओं के लिए रोजगार के अवसर पैदा कर सकती थी। उन्होंने कहा, ‘‘एक दिन नरेंद्र मोदी फ्रांस जाते हैं और अनुबंध की शर्तो में बदलाव कर देते हैं। मेरे प्रिय युवाओं, मोदी जी ने आपसे आपकी नौकरियां छीन ली। यदि उनमें कुव्वत है, 56 इंच का सीना है तो अपने (भाजपा के) प्रधानमंत्री को मेरे सामने, देश के सामने लाइए।’’ कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘वह चुप क्यों हैं? वह डर क्यों रहे हैं? वह भाग क्यों रहे हैं? वह मेरी आंखों में आंखें डाल कर मेरे सवालों का जवाब क्यों नहीं दे रहे हैं? क्योंकि चौकीदार ही भागीदार है।’’

गौरतलब है कि भारत ने लगभग 58,000 करोड़ रुपये की लागत से 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद के लिए पिछले साल सितंबर में फ्रांस के साथ एक अंतर-सरकारी समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। राहुल बार-बार आरोप लगाते रहे हैं कि अनुबंध की नई शर्तों के तहत राफेल लड़ाकू विमानों की कीमत बढ़ा दी गई। उन्होंने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर झूठ बोलने का आरोप लगाया। दरअसल, रक्षा मंत्री ने कहा था कि अनुबंध में मौजूद गोपनीयता उपबंध के चलते लड़ाकू विमान की नयी कीमत का खुलासा नहीं किया जा सकता।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘मैं फ्रांस के प्रधानमंत्री से मिला था और उन्होंने कहा था कि अनुबंध में कोई गोपनीयता उपबंध नहीं है। मनमोहन सिंह (पूर्व प्रधानमंत्री) और आनंद शर्मा (कांग्रेस नेता) भी मौजूद थे।’’ भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इस सौदे में भ्रष्टाचार के आरोपों को शुक्रवार को खारिज कर दिया था। कांग्रेस अध्यक्ष ने बलात्कार की घटनाओं को लेकर भी मोदी पर प्रहार किया और कहा कि प्रधानमंत्री ने ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ का नारा दिया, लेकिन उन्होंने यह नहीं कहा कि बच्चियों को किन लोगों से बचाना है।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में बलात्कार की घटना होती है और भाजपा नेता पकड़े जाते हैं। बिहार में बच्चियों से बलात्कार के मामले में हमने देखा कि उनमें भाजपा नेताओं के नाम सामने आए। हालांकि, प्रधानमंत्री ने इस पर एक शब्द नहीं बोला। उन्होंने देश के कई हिस्सों में कृषि संकट होने के बावजूद किसानों का कृषि ऋण माफ नहीं किए जाने को लेकर भी प्रधानमंत्री पर प्रहार किया।

राहुल ने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार ने सत्ता में आने के कुछ ही दिनों बाद कृषि ऋण माफ कर दिए। ‘‘आप बड़े-बड़े वादे करते हैं। मैं आपको कर्नाटक में कर्ज माफी का 50 फीसदी भार साझा करने की चुनौती देता हूं क्योंकि आपकी पार्टी ने भी अपने चुनाव घोषणापत्र में ऐसा एक वादा किया था...यदि आपमें कुव्वत है, 56 इंच का सीना है, तो यह करिए।’’ उन्होंने कहा कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार आने के शीघ्र बाद वह ‘गब्बर सिंह टैक्स’ को जीएसटी में तब्दील कर देगी, जो आम लोगों और छोटे कारोबारियों को फायदा पहुंचाएगा। राहुल ने मोदी पर यह भी आरोप लगाया कि वह देश के प्रधानमंत्री नहीं हैं, बल्कि 15 अत्यधिक धनी कारोबारियों के प्रधानमंत्री हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment