1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. PM मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर प्रियंका गांधी ने दागा सवाल, पूछा- क्या देश में बचा है लोकतंत्र?

PM मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर प्रियंका गांधी ने दागा सवाल, पूछा- क्या देश में बचा है लोकतंत्र?

हैशटैग ‘‘स्टॉप इलीगल अरेस्ट इन कश्मीर’’ से उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘यहां तक कि उनके परिवार वालों को भी उनसे बात करने की इजाजत नहीं है। क्या मोदी-शाह सरकार यह मानती है कि भारत अब भी लोकतंत्र है?’’

Bhasha Bhasha
Updated on: August 18, 2019 7:15 IST
Priyanka Gandhi- India TV
Priyanka Gandhi (File Photo)

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने शनिवार रात को सरकार पर निशाना साधते हुए पूछा कि आखिर किस आधार पर जम्मू-कश्मीर में उनकी पार्टी के नेताओं को हिरासत में लिया गया है। दरअसल, शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस इकाई को संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करने से रोका गया था, जिसके बाद अब उन्होंने पूछा कि क्या मीडिया से बात करना गुनाह है। पुलिस ने पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रवींद्र शर्मा को हिरासत में ले रखा है और जम्मू-कश्मीर के कांग्रेस अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर को नजरबंद किया गया है। 

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘किस आधार पर जम्मू-कश्मीर में कांग्रेस नेताओं को गिरफ्तार किया गया? क्या मीडिया से बात करना गुनाह है? जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री, जो भारत के संविधान का सम्मान और उसका पालन करते हैं, उन्हें हिरासत में 15 दिन हो गए हैं।’’ हैशटैग ‘‘स्टॉप इलीगल अरेस्ट इन कश्मीर’’ से उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘यहां तक कि उनके परिवार वालों को भी उनसे बात करने की इजाजत नहीं है। क्या मोदी-शाह सरकार यह मानती है कि भारत अब भी लोकतंत्र है?’’ 

इससे पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदम्बरम ने पार्टी के जम्मू-कश्मीर प्रमुख गुलाम अहमद मीर को हिरासत में लिए जाने की आलोचना करते हुए शनिवार को इसे ‘बिल्कुल गैरकानूनी’ करार दिया। उन्होंने उम्मीद जतायी कि अदालतें इस मामले का संज्ञान लेंगी। अपने कई ट्वीट में पूर्व वित्त मंत्री ने कहा कि मीर शुक्रवार से जम्मू में अपने घर में नजरबंद हैं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ हिरासत में लेने का कोई लिखित आदेश नहीं था। बिल्कुल गैरकानूनी है। मैं उम्मीद करता हूं कि अदालतें कदम उठाएंगी और नागरिकों की आजादी की सुरक्षा करेंगी।’’ 

वहीं, इससे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने भी मीर और जम्मू में वरिष्ठ कांग्रेस नेता रवींद्र शर्मा की गिरफ्तारी की निंदा की थी। राहुल ने ट्वीट किया था, ‘‘मैं जम्मू-कश्मीर कांग्रेस प्रमुख गुलाम अहमद मीर और प्रवक्ता रवींद्र शर्मा को जम्मू में गिरफ्तार किये जाने की कड़ी निंदा करता हूं। एक राष्ट्रीय राजनीतिक दल के खिलाफ इस अकारण कार्रवाई से सरकार ने लोकतंत्र पर एक और प्रहार किया है। यह पागलपन कब खत्म होगा।’’ 

आजाद ने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार तो कह रही है कि जम्मू में स्थिति सामान्य है और लोग जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संवैधानिक प्रावधानों को निरस्त करने के फैसले पर खुशी मना रहे हैं लेकिन विपक्ष के नेताओं को तो संवाददाता सम्मेलन भी नहीं करने दिया जा रहा है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment