1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. कभी PM, CM को खाना खिलाते देखा है? देखें, जब मोदी और योगी ने वृंदावन में बच्चों को परोसी थाली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अक्षय पात्र कार्यक्रम में बच्चों को परोसी 3 अरबवीं थाली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वृंदावन में अक्षय पात्र फाउंडेशन के कार्यक्रम में स्कूली बच्चों को खाना परोसा।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 11, 2019 23:36 IST
PM Narendra Modi - India TV
PM Narendra Modi 

वृंदावन: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को वृंदावन में अक्षय पात्र फाउंडेशन के कार्यक्रम में स्‍कूली बच्‍चों को खाना परोसा। इस भोजन को शहर में स्थित संस्था के अत्याधुनिक रसोई में तैयार किया गया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘यदि हम सिर्फ पोषण अभियान को हर माता, हर शिशु तक पहुंचने में सफल हुए तो अनेक जीवन बच जाएंगे। इसी सोच के साथ हमारी सरकार ने पिछले वर्ष राजस्थान के झुंझुनू से देशभर में राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरुआत की थी। पिछले वर्ष सितंबर महीने को पोषण के लिए समर्पित किया गया था।’

मोदी ने कहा, ‘अब बदली परिस्थितियों में पोषकता के साथ, पर्याप्त और अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन बच्चों को मिले, यह सुनिश्चित किया जा रहा है। इस काम में अक्षय पात्र से जुड़े आप सभी लोग, खाना बनाने वालों से लेकर खाना पहुंचाने और परोसने वालों तक, काम में जुटे सभी व्यक्ति देश की मदद कर रहे हैं। मिशन इंद्रधनुष के तहत देश के हर बच्चे तक पहुंचने का लक्ष्य लिया गया। अब तक इस मिशन के तहत देश में लगभग 3 करोड़ 40 लाख बच्चों और करीब 90 लाख गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण कराया जा चुका है। जिस गति से काम हो रहा है, उससे तय है संपूर्ण टीकाकरण का लक्ष्य अब ज्यादा दूर नहीं है।’

PM ने कहा, ‘हमने टीकाकरण अभियान को तेज़ी तो दी ही है, टीकों की संख्या में भी बढ़ोतरी की है। पहले के कार्यक्रम में 5 नए टीके जोड़े गए हैं, जिनमें से एक एनसेफलाइटिस यानी जापानी बुखार का भी है, जिसका सबसे ज्यादा खतरा उत्तर प्रदेश में देखा गया है। अब कुल 12 टीके बच्चों को लगाए जा रहे हैं।’ इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आबादी के लिहाज से उत्तर प्रदेश देश का सबसे बड़ा राज्य है। राज्य के प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में करीब 1.77 करोड़ बच्चे पढ़ते हैं। इन सभी बच्चों को मध्याह्न भोजन उपलब्ध कराया जाता है।

उन्होंने कहा कि इस कार्य में अक्षय पात्र फाउंडेशन से मदद ली जाती है। सरकार ने राज्य के 10 जनपदों में संस्था के साथ इस सहयोग को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया है। प्रयागराज कुंभ के संदर्भ में मुख्यमंत्री ने कहा कि कुंभ वैश्विक स्तर पर मानवता एवं संस्कृति के प्रतीक के रूप में सामने आया है। स्वच्छता का इस आयोजन में बहुत महत्व है। ‘स्वच्छ कुंभ’ को को इस आयोजन के केन्द्र में रखा गया है।

इस अवसर पर अक्षय पात्र फाउंडेशन के अध्यक्ष मधु पंडित दास ने कहा कि अभी सिर्फ आठवीं कक्षा तक के बच्चों को मध्याह्न भोजन मिलता है। हम प्रधानमंत्री से आग्रह करेंगे कि वह मिड-डे मील का विस्तार कर 12वीं कक्षा तक के बच्चों को इसमें शामिल करें। आयोजकों ने बताया कि इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण अक्षय पात्र के सभी 42 केंद्रों पर किया जा रहा है। अक्षय पात्र के अधिकारियों ने बताया कि संस्था ने 2012 में 1 अरबवीं और 2016 में 2 अरबवीं थाली परोसी थी।

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13