1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. PDP नेता का बड़ा बयान, कहा- गाय के नाम पर मुस्लिम मारे जाते रहे तो फिर से टूटेगा भारत

PDP नेता का बड़ा बयान, कहा- गाय के नाम पर मुस्लिम मारे जाते रहे तो फिर टूटेगा भारत

बेग ने शनिवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि यदि गाय और भैंस के नाम पर मुस्लिमों की हत्याओं को रोका नहीं गया तो एक बार फिर से देश का बंटवारा हो सकता है।

Written by: IndiaTV Hindi Desk [Published on:28 Jul 2018, 4:02 PM IST]
PDP leader Muzaffar Hussain Baig warns lynchers for dire consequences if Muslim killings continue- India TV
PDP leader Muzaffar Hussain Baig warns lynchers for dire consequences if Muslim killings continue | ANI

श्रीनगर: महबूबा मुफ्ती की अगुवाई वाली पीडीपी के सीनियर नेता और सांसद मुजफ्फर हुसैन बेग ने एक विवादित बयान दिया है। बेग ने शनिवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि यदि गाय और भैंस के नाम पर मुस्लिमों की हत्याओं को रोका नहीं गया तो एक बार फिर से देश का बंटवारा हो सकता है। बेग ने कहा कि 1947 में एक बंटवारा पहले ही हो चुका है। बेग अपनी पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे।

जानें, क्या कहा बेग ने

रिपोर्ट्स के मुताबिक, श्रीनगर के शेर-ए-कश्मीर पार्क में पीडीपी के स्थापना दिवस समारोह के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बेग ने कहा, 'गाय, भैंस के नाम पर मुसलमानों को कत्ल करना बंद करें वर्ना नतीजे अच्छे नहीं होंगे। इस देश का 1947 में बंटवारा हो चुका है, एक बार इसके 2 टुकड़े हो चुके हैं, अगर मुसलमानों को प्रताड़ित करना बंद नहीं किया गया तो फिर से वही होगा।'

खुलकर सामने आई पीडीपी की बगावत
वहीं, पीडीपी की प्रमुख और सूबे की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को बड़ा झटका देते हुए 6 विधायक पार्टी के स्थापना दिवस समारोह पर हो रही रैली में शामिल नहीं हुए। सिर्फ यही नहीं, विधायक अब्दुल मजीद ने कुलगाम में अलग से पार्टी का स्थापना दिवस मनाया और कहा कि असली पीडीपी हम हैं। गौरतलब है कि बीते कुछ दिनों से पार्टी के कई विधायकों ने बागी रुख अख्तियार किया हुआ है।

पीडीपी विधायकों ने महबूबा से की खुली बगावत | PTI File

पीडीपी विधायकों ने महबूबा से की खुली बगावत | PTI File

बीजेपी-पीडीपी गठबंधन टूटते ही शुरू हुई थी बगावत
गौरतलब है कि प्रदेश में 3 साल से चली आ रही बीजेपी-पीडीपी गठबंधन सरकार से भगवा दल के समर्थन वापस लेते ही महबूबा की पार्टी में कोहराम मच गया। पार्टी के कई नेताओं ने महबूबा से खुलकर बगावत कर दी। यहां तक कि पीडीपी के बागी विधायकों के साथ मिलकर सरकार बनाने की बातें भी सियासी गलियारों में होने लगीं। हालांकि भाजपा ने यह कहकर इन बातों पर विराम लगा दिया कि वह फिलहाल राज्य में राष्ट्रपति शासन चाहती है।

महबूबा मुफ्ती ने दी थी बड़ी धमकी
जूम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भाजपा और पीडीपी के बागी विधायकों के सरकार बनाने की कोशिश की खबरों के बीच धमकाते हुए कहा था कि अगर किसी किस्म की तोड़-फोड़ की कोशिश हुई तो नतीजे बहुत ज्यादा खतरनाक होंगे। महबूबा ने कहा था कि 1987 में जो कुछ भी हुआ और जम्मू-कश्मीर में जिस तरह एक सलाहउद्दीन और एक यासीन मलिक ने जन्म लिया, इस बार नतीजे उससे भी ज्यादा खतरनाक और घातक होंगे।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: PDP leader Muzaffar Hussain Baig warns lynchers for dire consequences if Muslim killings continue
Write a comment