1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. महाराष्ट्र में तेज हुई राजनीतिक गहमागहमी, दोपहर में शिवसेना विधायकों की अहम बैठक

महाराष्ट्र में तेज हुई राजनीतिक गहमागहमी, दोपहर में शिवसेना विधायकों की अहम बैठक

महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी को सरकार बनाने के लिए राज्यपाल के न्योते के बाद अब राजनीतिक गहमागहमी तेज हो गई है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: November 10, 2019 13:03 IST
Sanjay Raut, संजय राउत, Maharashtra CM, Sanjay Raut Shiv Sena, Uddhav Thackeray, Maharashtra Governm- India TV
Maharashtra Government Formation LIVE updates | PTI File

मुंबई: महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी को सरकार बनाने के लिए राज्यपाल के न्योते के बाद अब राजनीतिक गहमागहमी तेज हो गई है। आज दोपहर में 2 बजे शिवसेना के विधायकों की मुंबई के मढ में स्थित रिट्रीट होटल में बैठक होनी है। इस बैठक में शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे के साथ-साथ वरिष्ठ नेता संजय राउत एवं पार्टी के अन्य सांसद भी शामिल होंगे। वहीं, उद्धव के पुत्र और वरली से विधायक आदित्य ठाकरे रात से ही शिवसेना विधायकों के साथ होटल में मौजूद हैं।

वहीं, दूसरी तरफ महाराष्ट्र में सरकार के गठन की संभावनाओं को लेकर बीजेपी की भी कोर कमिटी एक मीटिंग कर रही है। माना जा रहा है कि इस बैठक में महाराष्ट्र को लेकर अंतिम फैसला ले लिया जाएगा। बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन ने आसानी से बहुमत हासिल कर लिया था, लेकिन मुख्यमंत्री पद को लेकर पेच फंस गया। ऐसे में अब किसी भी एक पार्टी के पास स्पष्ट बहुमत नहीं है, हालांकि 288 सदस्यीय विधानसभा में 105 विधायकों के साथ बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी जरूर है।

इससे पहले शिवसेना के नेता संजय राउत ने शनिवार को कहा था कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी द्वारा भाजपा को सरकार बनाने के लिए अपनी इच्छा और क्षमता से अवगत कराने के लिए कहना एक स्वागतयोग्य कदम है। उन्होंने कहा था कि यह फैसला निर्धारित प्रक्रिया के अनुरूप है। राउत ने कहा था, ‘कम से कम राज्यपाल ने सरकार गठन के लिए संभावना तलाशने का काम शुरू कर दी है। बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी है और सबसे पहले सरकार बनाने के लिए सही दावेदार है।’

जैसा कि हमने आपको बताया, राज्य में 288 सदस्यीय विधानसभा के लिए 21 अक्टूबर को हुए चुनाव में बीजेपी ने 105 सीटें जीती जबकि बहुमत के लिए 145 सीटें चाहिए। उधर, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा कि अगर शिवसेना ने भी सदन में बीजेपी के खिलाफ वोट किया तो उनकी पार्टी विकल्प के बारे में सोच सकती है। मलिक ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा, ‘शक्ति परीक्षण हुआ तो NCP बीजेपी के खिलाफ वोट करेगी। अगर शिवसेना ने सदन पटल पर बीजेपी के खिलाफ वोट किया और सरकार गिर गयी तो एनसीपी विकल्प के बारे में सोचेगी।’

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13