1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. जिनके खिलाफ BJP भ्रष्टाचार के आरोप लगाती थी, उन्हें पार्टी में शामिल करना अच्छा नहीं: खडसे

जिनके खिलाफ BJP भ्रष्टाचार के आरोप लगाती थी, उन्हें पार्टी में शामिल करना अच्छा नहीं: खडसे

भाजपा के वरिष्ठ नेता एकनाथ खडसे ने शनिवार को कहा कि जिन नेताओं के खिलाफ भाजपा कभी भ्रष्टाचार के आरोप लगाती थी, उन्हें भगवा पार्टी में शामिल करना अच्छा विचार नहीं है।

Bhasha Bhasha
Published on: August 17, 2019 19:28 IST
Eknath Khadse - India TV
Eknath Khadse File Photo

मुंबई: भाजपा के वरिष्ठ नेता एकनाथ खडसे ने शनिवार को कहा कि जिन नेताओं के खिलाफ भाजपा कभी भ्रष्टाचार के आरोप लगाती थी, उन्हें भगवा पार्टी में शामिल करना अच्छा विचार नहीं है। महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री ने कहा कि भाजपा अन्य दलों से अलग पार्टी के रूप में जानी जाती है और इस छवि को नुकसान नहीं पहुंचाया जाना चाहिए। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के राधाकृष्ण विखे पाटिल और कालिदास कोलम्बकर तथा राकांपा विधायक शिवेंद्रसिंह भोंसले, संदीप नायक और वैभव पिचाड सहित कई नेता हाल के हफ्तों में महाराष्ट्र में भाजपा में शामिल हुए हैं। 

खडसे ने एक मराठी न्यूज चैनल से कहा, ‘‘(केंद्रीय मंत्री) नितिन गडकरी ने भाजपा में नेताओं के आने का तांता लगने के बारे में एक बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि भाजपा सत्ता में है और इसलिए कई लोग इसमें शामिल हो रहे हैं।’’ उन्होंने गडकरी को उद्धृत करते हुए कहा कि जो लोग निजी स्वार्थों के साथ भगवा पार्टी में शामिल हो रहे हैं, वे इसके सत्ता से बाहर होने पर पार्टी छोड़ कर चले जाएंगे। 

खडसे ने कहा, ‘‘मैं गडकरी के बयान से सहमत हूं। मैं भी भाजपा में अच्छे लोगों के शामिल होने के पक्ष में हूं। अन्यथा पार्टी का विस्तार नहीं होगा। लेकिन उन लोगों को शामिल करना नुकसानदेह होगा, जिनके खिलाफ हमने या जिन्होंने हम पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाये थे।’’ उनके विधानसभा क्षेत्र मुक्ताईनगर पर भाजपा के कुछ अन्य नेताओं की नजरें होने की चर्चा के बीच खडसे ने कहा, ‘‘मैं फिर से यह सीट मांगूगा। पार्टी ने यदि मुझे टिकट दिया तो मैं चुनाव लडूंगा।’’ इस साल अक्टूबर में राज्य में विधानसभा चुनाव होने हैं। खडसे ने एक भूमि सौदे में अनियमितता के आरोपों का सामना करने पर 2016 में राज्य कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment