1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. कर्नाटक संकट LIVE: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, विधायकों के इस्तीफे पर फैसला करें स्पीकर

कर्नाटक संकट LIVE: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, विधायकों के इस्तीफे पर फैसला करें स्पीकर

सुप्रीम कोर्ट के फैसले से लेकर सरकार के पैंतरों तक, कर्नाटक के सियासी नाटक से जुड़े पल-पल के अपडेट्स के लिए हमारे साथ बने रहें:

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 17, 2019 19:31 IST
Karnataka Political Crisis Live Updates | PTI File- India TV
Karnataka Political Crisis Live Updates | PTI File

नई दिल्ली: कर्नाटक का सियासी नाटक अब अपने क्लाइमेक्स की तरफ बढ़ चुका है। 18 जुलाई को कर्नाटक विधानसभा में एच. डी. कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली सरकार का शक्ति परीक्षण होना है। आपको बता दें कि 18 जुलाई को 11 बजे सदन में विश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के बाद वोटिंग होगी। माना जा रहा है कि इसके बाद साफ हो जाएगा कि ऊंट किस करवट बैठा है। उसके पहले सुप्रीम कोर्ट का फैसला भी काफी अहम होगा। कर्नाटक के दिलचस्प सियासी नाटक को करीब से जानने के लिए और पल-पल के अपडेट्स के लिए हमारे साथ बने रहें:

Live updates : Karnataka Political Crisis Live Updates

Auto Refresh
Refresh
  • 12:53 PM (IST)

    हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं। हम सब साथ हैं। हम अपने फैसले पर कायम हैं। विधानसभा जाने का सवाल ही नहीं है: कर्नाटक के बागी विधायक

  • 11:01 AM (IST)

    सत्तारूढ़ गठबंधन को विधानसभा में 117 विधायकों का समर्थन है (जिनमें 16 बागी हो चुके हैं)। इसमें कांग्रेस के 78, जेडीएस के 37, बीएसपी के 1 और एक मनोनीत विधायक शामिल हैं। इसके अलावा विधानसभा अध्यक्ष का भी एक मत होता है।

  • 11:00 AM (IST)

    2 निर्दलीय विधायकों के समर्थन से 225 सदस्यों वाली विधानसभा में विपक्षी बीजेपी को 107 विधायकों का समर्थन हासिल है। अगर 16 बागी विधायकों का इस्तीफा स्वीकार हो जाता है या वे मतदान नहीं करते हैं तो सत्तारूढ़ दल अल्पमत में आ जाएगा।

  • 10:59 AM (IST)

    कोर्ट के आदेश के मुताबिक, जिन 15 विधायकों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दी है, उनके ऊपर गुरुवार को पार्टी का व्हिप लागू नहीं होगा। ऐसे में अगर वे कल बेंगलुरु आकर अपनी अपनी पार्टी के पक्ष में मतदान नहीं करते हैं तो कांग्रेस-JDS की गठबंधन सरकार का गिरना तय है।

  • 10:48 AM (IST)

    चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस दीपक गुप्ता और जस्टिस अनिरुद्ध बोस की पीठ ने कर्नाटक मामले पर अपना फैसला सुनाया है।

  • 10:47 AM (IST)

    कोर्ट ने कहा है कि स्पीकर रमेश कुमार अपनी मर्जी के मुताबिक जो भी फैसला करना चाहते हैं, वह करें, इसके लिए समयसीमा की बाध्यता नहीं है।

  • 10:45 AM (IST)

    सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि स्पीकर पर विधायकों का इस्तीफा मंजूर करने के लिए दबाव नहीं बना सकते। कोर्ट ने कहा है कि इस्तीफे पर फैसला स्पीकर ही लेंगे।

  • 10:42 AM (IST)

    कर्नाटक मामले पर सुप्रीम कोर्ट का आदेश, विधायकों के इस्तीफे पर फैसला करें स्पीकर।

  • 10:40 AM (IST)

    इससे पहले कर्नाटक के पूर्व सीएम और बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा ने कहा था, हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रहे हैं, जिन विधायकों ने इस्तीफा दिया है, वे प्रभावित नहीं होंगे। कल सीएम विश्वास प्रस्ताव कराने जा रहे हैं, वह जनादेश को खो देंगे, देखते हैं कि क्या होता है।

  • 10:39 AM (IST)

    सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस रंजन गोगोई कर्नाटक मामले पर अपना फैसला पढ़ रहे हैं।

  • 8:57 AM (IST)

    वहीं कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धारमैया ने सोमवार को ऐलान किया कि 18 जुलाई को विधानसभा में विश्‍वासमत पर चर्चा होगी। सिद्धारमैया ने बताया कि सीएम एचडी कुमारस्‍वामी ने विधानसभा के अंदर विश्‍वास प्रस्‍ताव रखा और 18 जुलाई को इस पर चर्चा होगी। 

  • 8:56 AM (IST)

    कर्नाटक में जारी सियासी संकट के बीच प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा और पार्टी के विधायक बुधवार को आने वाले सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर पूरी तरह से आश्वस्त दिख रहे हैं। वह मंगलवार को बीजेपी विधायकों के साथ क्रिकेट खेलते और भजन गाते नजर आए। 

  • 8:56 AM (IST)

    कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष को कांग्रेस-JDS के 15 बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार करने का निर्देश देने की मांग को लेकर दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट आज अपना अहम फैसला सुनाएगा।

  • 8:55 AM (IST)

    कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन के करीब 16 विधायक विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे चुके हैं। इससे कर्नाटक सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment