1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. कर्नाटक: कांग्रेस ने 18 जनवरी को बुलाई विधायक दल की बैठक, असंतुष्टों को दिया मंत्री बनाने का आश्वासन

कर्नाटक: कांग्रेस ने 18 जनवरी को बुलाई विधायक दल की बैठक, असंतुष्टों को दिया मंत्री बनाने का आश्वासन

कांग्रेस ने 18 जनवरी को कर्नाटक विधायक दल की बैठक आहूत की है और भाजपा पर इसने राज्य सरकार को अस्थिर करने की खातिर खरीद-फरोख्त के आरोप लगाए हैं।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Updated:16 Jan 2019, 11:56 PM IST]
congress- India TV
congress

बेंगलुरु: कांग्रेस ने 18 जनवरी को कर्नाटक विधायक दल की बैठक आहूत की है और भाजपा पर इसने राज्य सरकार को अस्थिर करने की खातिर खरीद-फरोख्त के आरोप लगाए हैं। पार्टी नेताओं ने कहा कि कांग्रेस के विधायक ‘‘एकजुट’’ हैं और उन खबरों को खारिज किया जिसमें दावा किया गया कि कुछ विधायक पार्टी छोड़ने वाले हैं। पार्टी ने कहा कि एच डी कुमारस्वामी की सरकार को कोई खतरा नहीं है। इसके अलावा, पार्टी ने नाराज विधायकों को मनाने के लिए उन्हें मंत्री बनाए जाने का आश्वासन भी दिया है।

सिद्धारमैया के कार्यालय ने बुधवार को बयान जारी कर कहा, ‘‘कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) के नेता सिद्धारमैया की अध्यक्षता में सीएलपी की बैठक 18 जनवरी को अपराह्न साढ़े तीन बजे विधान सौध के सम्मेलन कक्ष में निर्धारित की गई है।’’ अपने असंतुष्ट विधायकों को मनाने के प्रयास के तहत कांग्रेस की यह बैठक काफी मायने रखती है। ऐसी खबर है कि असंतुष्ट विधायक भाजपा में जाने की तैयारी में हैं। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक पार्टी के कुछ मंत्रियों ने बड़े हित में पद छोड़ने की भी पेशकश की है ताकि गठबंधन को एकजुट रखा जा सके। उन्होंने कहा कि पार्टी नेतृत्व भी इस विकल्प पर गौर कर रहा है।

इस तरह की खबर है कि कुछ विधायकों से संपर्क नहीं हो पा रहा है जिनमें तीन से पांच विधायक मुंबई में भाजपा के कुछ नेताओं के साथ हैं। इस बीच, चिकमंगलूर में संवाददाताओं से बात करते हुए सिद्धारमैया ने भाजपा पर बरसते हुए उसे ‘‘निर्लज्ज’’ कहा। उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें (भाजपा) लोकतंत्र में विश्वास नहीं है। लोगों ने उन्हें चुनाव में विपक्ष में बैठने का जनादेश दिया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लोगों ने उन्हें शासन करने का जनादेश नहीं दिया है। पिछले छह महीने में वे इस सरकार को अस्थिर करने का प्रयास कर रहे हैं।’’

उन्होंने आरोप लगाए, ‘‘येदियुरप्पा बुजुर्ग हो गए हैं लेकिन उनके पास दिमाग नहीं है। वह करीब 76 वर्ष के हैं लेकिन अब भी गलत माध्यम से विधायकों को करोड़ों रुपये की पेशकश कर मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं। यह हमारे लोकतंत्र के लिए खतरा है और भाजपा को लोकतंत्र तथा संविधान में विश्वास नहीं है।’’

कांग्रेस महासचिव और कर्नाटक के प्रभारी के सी वेणुगोपाल सोमवार की रात से ही महानगर में डेरा डाले हुए हैं और पार्टी नेताओं के साथ लगातार बैठकें कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सभी विधायक ‘‘ठीक हैं और एकजुट हैं।’’ उन्होंने पार्टी के कुछ विधायकों के इस्तीफे की मीडिया में आई खबरों को ‘‘निराधार’’ करार दिया। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘कुछ नहीं होने जा रहा है। कांग्रेस के सभी विधायक एकजुट हैं और हम सभी के संपर्क में हैं।’’

मुंबई में विधायकों के डेरा डाले जाने के बारे में पूछने पर वेणुगोपाल ने पलट कर पूछा, ‘‘क्या आपको पता है कि वे मुंबई में ही हैं?’’ उन्होंने कहा, ‘‘वे परसों वहां थे लेकिन अब पुष्टि कर लीजिए।’’ वेणुगोपाल ने कहा कि गठबंधन सरकार ‘‘अगले साढ़े चार वर्षों तक चलेगी।’’

प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख दिनेश गुंडू ने कहा कि जैसा कि भाजपा दावा कर रही है, कोई भी ‘‘संक्रांति क्रांति या दीपावली धमाका या न्यू ईयर ब्लास्ट’’ नहीं होने जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘भाजपा का यह फ्लॉप शो होगा...हमारी सरकार स्थिर है, सरकार को एक ईंच भी खतरा नहीं है और हम निश्चिंत हैं।’’ संवाददाताओं से बात करते हुए राव ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को भी निशाना बनाया और उन पर विधायकों को ‘प्रलोभन देने’ का आरोप लगाया।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Web Title: कर्नाटक: कांग्रेस ने 18 जनवरी को बुलाई विधायक दल की बैठक, असंतुष्टों को दिया मंत्री बनाने का आश्वासन
Write a comment
vandemataram-india-tv
manohar-parrikar
ipl-2019