1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. कुमारस्वामी इस्तीफा देकर कांग्रेस को कर सकते हैं CM पद ऑफर, बुलाई कैबिनेट की बैठक

कुमारस्वामी इस्तीफा देकर कांग्रेस को कर सकते हैं CM पद ऑफर, बुलाई कैबिनेट की बैठक

अब तक कांग्रेस और जेडीएस के 16 विधायक बागी हो चुके हैं। दो निर्दलीयों को मिलाकर कुल 18 विधायक सरकार से दूर जा चुके हैं लेकिन कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर रमेश कुमार ने इस्तीफों को अटका दिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: July 11, 2019 10:33 IST
कुमारस्वामी आज कर सकते हैं कर्नाटक विधानसभा भंग करने की सिफारिश- India TV
कुमारस्वामी आज कर सकते हैं कर्नाटक विधानसभा भंग करने की सिफारिश

नई दिल्ली: कांग्रेस और जेडीएस की लाख कोशिशों के बावजूद कर्नाटक सरकार पर मंडरा रहा संकट और गहरा गया है। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कैबिनेट की बैठक बुलाई है और ऐसी संभावना जताई जा रही है कि कुमारस्वामी सरकार बचाने के लिए खुद मुख्यमंत्री पद छोड़कर कांग्रेस को यह पद ऑफर कर सकते हैं। थोड़ी देर बाद बेंगलुरु में कर्नाटक केबिनेट की बैठक शुरु होगी। 

Related Stories

बता दें कि अब तक कांग्रेस और जेडीएस के 16 विधायक बागी हो चुके हैं। दो निर्दलीयों को मिलाकर कुल 18 विधायक सरकार से दूर जा चुके हैं लेकिन कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर रमेश कुमार ने इस्तीफों को अटका दिया है। स्पीकर के खिलाफ बागी विधायक सुप्रीम कोर्ट गए हैं जहां आज सुनवाई होनी है।

सुप्रीम कोर्ट में दायर अपनी याचिका में बागी विधायकों ने कहा है कि स्पीकर रमेश कुमार अपनी ड्यूटी सही तरीके से नहीं निभा रहे हैं और राजनीतिक वजहों से विधायकों के इस्तीफे मंज़ूर नहीं कर रहे हैं। स्पीकर बहुमत खो चुकी जेडीएस-कांग्रेस सरकार को बचाने की कोशिश कर रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट स्पीकर को फैसला लेने का निर्देश दे।

इस हंगामे से अब तक दूर दिखने की कोशिश कर रही बीजेपी अब खुलकर सामने आ गई है। बीजेपी के नेता और कर्नाटक से पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा बुधवार को स्पीकर से मिले और विधायकों के इस्तीफे पर जल्द फैसला लेने की मांग की। बीजेपी ने कर्नाटक के राज्यपाल से भी दखल की मांग की है।

इस बीच मुंबई के होटल में ठहरे कांग्रेस के बागी विधायक एसटी सोमशेखर बुधवार देर रात बैंगलोर लौट आए हैं। बागी सोमशेखऱ बैगंलोर डेवेलेपमेंट ऑथोरिटी के चेयरमैन भी हैं और कहा जा रहा है कि वो मीटिंग के लिए ही आए हैं। वापस आकर सोमशेखर ने कहा कि अब वो मुंबई नहीं जाएंगे और यहीं रहेंगे।

इससे पहले कांग्रेस के संकटमोचक डीके शिवकुमार और जेडीएस विधायक शिवलिंगे गौड़ा स्पेशल फ्लाइट से मुंबई पहुंचे थे लेकिन बागी विधायकों की पुलिस से सुरक्षा की मांग के बाद पुलिस ने उन्हें होटल के बाहर ही रोक दिया। होटल के बाहर इनके खिलाफ नारेबाज़ी भी हुई। इस बीच मुंबई कांग्रेस भी सक्रिय हुई और डीके शिवकुमार के समर्थन में मिलिंद देवड़ा कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को लेकर पहुंच गए। आखिरकार पुलिस सबको उठाकर ले गई। बाद में शिवकुमार को वापस बेंगलुरु भेज दिया।

जब मुंबई में शिवकुमार पुलिस से उलझ रहे थे उस वक्त बैंगलूरू में कांग्रेस और जेडीएस के नेता मिन्स स्क्वायर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। एच डी देवेगौड़ा और गुलाम नबी आजाद के नेतृत्व में दोनों पार्टियों के नेताओं ने बीजेपी के खिलाफ प्रदर्शन किया। बुधवार को कर्नाटक के मुद्दे पर लगातार दूसरे दिन संसद में भी हंगामा हुआ जहां कांग्रेस ने एक बार फिर कर्नाटक संकट के लिए बीजेपी को जिम्मेदार बताया। इस बीच बीजेपी आज बैंगलूरु में प्रदर्शन की तैयारी कर रही हैं, लेकिन सबकी निगाहें सुप्रीम कोर्ट और सीएम कुमारस्वामी की कैबिनेट की बैठक पर है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
arun-jaitley