1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. झारखंड में सड़कों के विकास के लिए CM रघुवर दास ने गडकरी से की मुलाकात

झारखंड में सड़कों के विकास के लिए CM रघुवर दास ने गडकरी से की मुलाकात

इस मुलाकात में राज्य में चल रहे राष्ट्रीय राज्य मार्गो के कार्यों और नई परियोजनाओं पर विचार विमर्श किया गया...

Reported by: Bhasha [Published on:03 May 2018, 6:51 AM IST]
nitin gadkari- India TV
nitin gadkari

रांची: मुख्यमंत्री रघुवर दास ने केंद्रीय पथ परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात कर राज्य में चल रही सड़क परियोजनाओं तथा साहिबगंज में गंगा के पुल का कार्य शीघ्र पूरा करने की मांग की। सरकार की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज नई दिल्ली में केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात कर यह मांग की।

इस मुलाकात में राज्य में चल रहे राष्ट्रीय राज्य मार्गो के कार्यों और नई परियोजनाओं पर विचार विमर्श किया गया। जिसके अंतर्गत पथ परिवहन मंत्री गडकरी ने आश्वासन दिया कि साहेबगंज में बनने वाले गंगा पुल का निर्माण अति शीघ्र ही शुरू करा दिया जायेगा। इससे जुडी सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं।

रांची जमशेदपुर सड़क एनएच-33 के निर्माण की भी समीक्षा की गई। केंद्रीय मंत्री ने कहा की इस सड़क निर्माण को लेकर कोई मोहलत नहीं दी जाएगी। जल्द ही केंद्र सरकार इस पर ठोस निर्णय लेगी, समय सीमा के अंदर सड़क निर्माण को पूरा किया जायेगा। बैठक में मंत्रालय के अलावा एनएचआई और परियोजना से जुड़े बैंक के पदाधिकारी भी शामिल थे।

पथ परिवहन मंत्री के साथ हुई बैठक में नगड़ी में बन रहे फ्लाई ओवर के सुस्त निर्माण पर भी चर्चा की गई। उसमें फ्लाई ओवर निर्माण को गति देने के उद्देश्य से एनएचआई को इसका निर्माण पूरा करने का निर्देश दिया गया। साथ ही कचहरी चौक से पिस्का मोड़ तक बनने वाले तीन लेन के एलिवेटेड रोड के बारे में बताया गया की टेंडर निकालने के पहले की सारी प्रक्रिया पूरी कर ली गई है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने केंद्रीय मंत्री से राज्य में मार्गो के विशाल जाल को और अधिक सुदृढ़ करने की प्रक्रिया में 1000 किलोमीटर सड़क निर्माण का अनुरोध किया। जिसमे केंद्रीय मंत्री ने इस बिंदु पर डीपीआर उपलब्ध कराने का आदेश दिया है। बैठक में एनएच 75 (कुडू से मुरी सेमर) की 206 किलोमीटर की परियोजना पर भी चर्चा की गई साथ ही इसके निर्माण को जल्द शुरू करने के प्रयास पर सहमति बनी। 

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019