1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. जम्मू-कश्मीर विधानसभा भंग करने के फैसले पर चिदंबरम ने उठाए सवाल, कही यह बात

जम्मू-कश्मीर विधानसभा भंग करने के फैसले पर चिदंबरम ने उठाए सवाल, कही यह बात

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने जम्मू-कश्मीर विधनासभा को अचानक भंग किए जाने पर गुरुवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा नियुक्त राज्यपाल सत्यपाल मलिक के लिए संसदीय लोकतंत्र पुराना हो गया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 22, 2018 16:31 IST
P Chidambaram- India TV
P Chidambaram

नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने जम्मू-कश्मीर विधनासभा को अचानक भंग किए जाने परगुरुवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा नियुक्त राज्यपाल सत्यपाल मलिक के लिए संसदीय लोकतंत्र पुराना हो गया है। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी), नेशनल कॉन्फ्रेंस और कांग्रेस के एक साथ आकर सरकार बनाने का दावा करने के बाद तुरंत विधानसभा भंग करे देने के मलिक के नाटकीय फैसले के एक दिन बाद चिदंबरम ने ट्विटर के जरिए उन पर निशाना साधा है। 

चिदंबरम ने कहा, "जब तक किसी ने भी सरकार बनाने का दावा नहीं किया था तब तक जम्मू एवं कश्मीर के राज्यपाल विधानसभा को निलंबित रखकर खुश थे। जैसे ही किसी ने सरकार बनाने का दावा किया, उन्होंने विधानसभा को भंग कर दिया।" 

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री ने कहा, "लोकतंत्र का वेस्टमिंस्टर मॉडल (लोकतांत्रिक संसदीय प्रणाली) पुराना हो गया है। अन्य मामलों की तरह, यह गुजरात मॉडल है, जो जम्मू एवं कश्मीर के राज्यपाल को पसंद आया है।"नेशनल कॉन्फ्रेंस के उमर अब्दुल्ला और पीडीपी की प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने भी राज्यपाल के इस फैसले पर सवाल उठाए हैं। 

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13