1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. ‘मिशन शक्ति’ पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया, कहा इंदिरा गांधी के समय बना था ISRO, वैज्ञानिकों को बधाई

‘मिशन शक्ति’ पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया, कहा इंदिरा गांधी के समय बना था ISRO, वैज्ञानिकों को बधाई

कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हेंडल के जरिए इस उपलब्धि के जरिए भारत सरकार और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) को बधाई दी है

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: March 27, 2019 14:16 IST
ISRO set up under Indira Gandhi has made India proud says Congress in its reaction to Mission Shakti- India TV
ISRO set up under Indira Gandhi has made India proud says Congress in its reaction to Mission Shakti

नई दिल्ली। भारत ने मिशन शक्ति के जरिए अंतरिक्ष में दुनिया की चौथी महाशक्ति बनने की जो उपलब्धि हासिल की है उसपर देश के मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने प्रतिक्रिया दी है। कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हेंडल के जरिए इस उपलब्धि के जरिए भारत सरकार और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) को बधाई दी है।

कांग्रेस ने अपने ट्विटर हेंडल पर लिखा, ‘ हम इस उपलब्धि के लिए ISRO और सरकार को बधाई देते हैं, भारतीय स्पेस कार्यक्रम की स्थापना 1961 में पंडित जवाहर लाल नेहरू ने की थी और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) की स्थापना श्रीमती इंदिरा गांधी के कार्यकाल में हुई, इंदिरा गांधी ने अपनी उपलब्धियों से देश को हमेशा गर्वित किया है।‘

बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के नाम अपने महत्वपूर्ण संदेश में बताया कि अंतरिक्ष में 27 मार्च को भारत दुनिया की चौथी महाशक्ति बन गया है। प्रधानमंत्री ने बताया कि भारत ने आज अंतरिक्ष महाशक्ति, स्पेश पावर के तौर पर दर्ज करा दिया है, अबतक दुनिया के तीन देश अमेरिका, रूस और चीन को यह उपलब्धि हासिल थी, भारत चौथा देश हो गया है और हर हिंदुस्तानी के लिए इससे बड़ा गर्व का पल नहीं हो सकता। प्रधानमंत्री ने कहा कुछ ही समय पूर्व हमारे वैज्ञानिकों ने स्पेश में 300 किलोमीटर दूर, लो अर्थ ऑरबिट (LEO) में एक सैटेलाइट को मार गिराया है, सेटलाइट को एंटी सेटलाइट मिसाइल द्वारा मार गिराया गया है, सिर्फ 3 मिनट में सफलता पूर्वक यह ऑपरेशन पूरा किया गया है।​

प्रधानमंत्री ने बताया कि मिशन शक्ति अत्यंत कठिन ऑपरेशन था, जिसमें उच्च कोटी की तकनीकी क्षमताओं की आवश्यकता थी। हम सभी भारतीयों के लिए यह गर्व की बात है कि यह पराक्रम भारत में ही विकसित मिसाइल द्वारा सिद्ध किया गया है। प्रधानमंत्री ने मिशन शक्ति से जुड़े सभी DRDO वैज्ञानिकों, अनुसंधानकर्ताओं को इस उपलब्धी के लिए बधाई दी है। उन्होंने कहा कि इस आसाधारण सफलता को प्राप्त करने में वैज्ञानिकों ने अपना योगदान दिया और देश का मान बढ़ाया, प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें हमारे वैज्ञानिकों पर गर्व है, अंतरिक्ष आज हमारी जीवन शैली की महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है, हमारे पास पर्याप्त संख्या में उपग्रह उपलब्ध हैं जो अपना बहुमूल्य योगदान दे रहे हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
budget-2019