1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. DUSU Polls 2018: छात्र संघ चुनावों के लिए 52 केंद्रों पर मतदान जारी, डेढ़ लाख छात्र-छात्राएं ले रहे भाग

DUSU Polls 2018: छात्र संघ चुनावों के लिए 52 केंद्रों पर मतदान जारी, डेढ़ लाख छात्र-छात्राएं ले रहे भाग

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव के लिए राष्ट्रीय राजधानी के कॉलेजों में 52 केंद्रों पर मतदान चल रहा है। एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि डूसू चुनावों में 1.35 लाख छात्र 23 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला कर सकेंगे।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Updated:12 Sep 2018, 11:44 AM IST]
DUSU Polls 2018: उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला आज, मतदान में डेढ़ लाख छात्र-छात्राएं लेंगे भाग- India TV
DUSU Polls 2018: उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला आज, मतदान में डेढ़ लाख छात्र-छात्राएं लेंगे भाग

नई दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) चुनाव के लिए राष्ट्रीय राजधानी के कॉलेजों में 52 केंद्रों पर मतदान चल रहा है। एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि डूसू चुनावों में 1.35 लाख छात्र 23 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला कर सकेंगे। अधिकारी ने बताया कि वरिष्ठ संकाय सदस्यों को केंद्रों पर पर्यवेक्षकों के तौर पर तैनात किया गया है और करीब 700 इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनें लगाई गई हैं। कॉलेजों में मतदान आज सुबह साढ़े आठ बजे शुरू हुआ और यह दोपहर एक बजे तक चलेगा। शाम की पाली वाले कॉलेजों में दोपहर तीन बजे से लेकर शाम साढ़े सात बजे तक मतदान होगा।

डूसू चुनाव में भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के प्रत्याशी मैदान में हैं, वहीं आम आदमी पार्टी (आप) की छात्र इकाई छात्र युवा संघर्ष समिति ने वामपंथी छात्र संगठन अखिल भारतीय छात्र संघ (आइसा) के साथ गठबंधन किया है।

एनएसयूआई ने इन चुनावों में दिल्ली विश्वविद्यालय को ‘‘उत्कृष्टता संस्थान’’ का दर्जा दिलाने और दस रुपये की थाली का वादा किया है जबकि एबीवीपी ने छात्र संघ का 50 फीसदी बजट महिलाओं और सामाजिक न्याय संबंधित गतिविधियों पर खर्च करने तथा खेलों को बढ़ावा देने और कॉलेज परिसरों में सैनिटरी पैड वेंडिंग मशीनें लगाने का वादा किया है।

आप के फरवरी 2015 में दिल्ली में सत्ता में आने के बावजूद उसकी छात्र ईकाई डूसू चुनावों में असफल रही है। उसने सीसीटीवी कैमरे लगाने, परिसर में पुलिस बूथ लगाने, ‘‘गुंडागर्दी की संस्कृति’’ खत्म करने और शिक्षा के व्यावसायीकरण का विरोध करने का वादा किया है। मतदान के नतीजे गुरूवार को घोषित किए जाएंगे। पिछले साल 43 फीसदी मतदान हुआ था।

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019