1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. मोदी, शाह का मीडिया के लिए 'दिवाली मिलन' भोज

मोदी, शाह का मीडिया के लिए 'दिवाली मिलन' भोज

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को पार्टी मुख्यालय में मीडियाकर्मियों के लिए 'दिवाली मिलन' समारोह के तहत दोपहर के भोजन का आयोजन किया। इस

IANS [Updated:28 Nov 2015, 3:48 PM IST]
मोदी, शाह का मीडिया के...- India TV
मोदी, शाह का मीडिया के लिए 'दिवाली मिलन' भोज

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को पार्टी मुख्यालय में मीडियाकर्मियों के लिए 'दिवाली मिलन' समारोह के तहत दोपहर के भोजन का आयोजन किया। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, एम. वेंकैया नायडू, नितिन गडकरी, रवि शंकर प्रसाद, निर्मला सीतारमन, स्मृति ईरानी सहित भाजपा के कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर इन उत्सवों के सामाजिक-आर्थिक आयामों को देखा जाए, तो इसमें कई दिलचस्प कहानियां हैं। मोदी ने कहा कि वह 'दिवाली मिलन' का आयोजन पहले ही करना चाहते थे, लेकिन अपने व्यस्त कार्यक्रमों के कारण ऐसा नहीं कर पाए।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने मीडिया से बातचीत की और उनके साथ सेल्फी के दौर भी चले। मोदी ने कहा कि कुंभ सहित भारतीय त्योहार लोगों को आपस में जोड़ते हैं। उन्होंने कहा, हमारे समाज में त्योहार अपने आप में एक बड़ी शक्ति हैं, जो समाज को नयी गति, उर्जा और उत्साह देते हैं।

उन्होंने कहा कि अगर त्योहारों के सामाजिक और आर्थिक आयामों का विशलेषण किया जाए तो उनसे कई तरह की खबरें निकल सकती हैं। उदाहरणस्वरूप, कुंभ मेले के दौरान गंगा के किनारे इतनी विशाल संख्या में लोग एकत्र होते हैं जितनी कुछ छोटे यूरोपीय देशों की आबादी है।

मंच से अपने संक्षिप्त संबोधन के बाद प्रधानमंत्री नीचे आ गए और भाजपा मुख्यालय में उपस्थित पत्रकारों से हाथ मिलाया। कई पत्रकारों ने उनके साथ सेल्फी ली। भाजपा मुख्यालय में आयोजित दिवाली मेले में मोदी पिछले साल भी इसी तरह आए थे और मीडिया से बेतकल्लुफ अंदाज में घुल मिल गए थे।

दिवाली मेले का आयोजन देर से किए जाने के बारे में उन्होंने कहा कि व्यस्त कार्यक्रमों के चलते ऐसा हुआ। उन्होंने हंसते हुए कहा, अगर इसे अब भी आयोजित नहीं किया जाता तो, शायद फिर क्रिसमस तक प्रतीक्षा करनी पड़ती।

इस मौके पर मौजूद पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने इस वर्ष को देश की लोकतांत्रिक परंपराओं के लिए महत्वपूर्ण बताते हुए इसके लिए बधाई दी। संविधान दिवस पर संसद में हुई विशेष चर्चा के संबंध मैं उन्होंने कहा संसद ने सर्वसम्मति से संविधान की सर्वोच्चता को दर्शाया और हमारा प्रयास इस भावना को सभी दलों और मीडिया के जरिए समाज के सबसे कमजोर व्यक्ति तक ले जाने का होगा।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: Diwali banquet for media by Modi, Shah
Write a comment