1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. #ChunavManch: विजय रूपाणी ने कहा, कांग्रेस को PM मोदी का चायवाला कार्टून महंगा पड़ेगा

#ChunavManch: विजय रूपाणी ने कहा, कांग्रेस को PM मोदी का चायवाला कार्टून महंगा पड़ेगा

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने मंगलवार को कहा कि सोशल मीडिया पर एक ‘चायवाला’ के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कार्टून पोस्ट करना कांग्रेस को विधानसभा चुनावों में महंगा पड़ने वाला है...

Written by: IndiaTV Hindi Desk [Updated:28 Nov 2017, 10:58 PM IST]
Gujarat CM Vijay Rupani- India TV
Gujarat CM Vijay Rupani

अहमदाबाद: गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने मंगलवार को कहा कि सोशल मीडिया पर एक ‘चायवाला’ के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कार्टून (मीम) पोस्ट करना कांग्रेस को विधानसभा चुनावों में महंगा पड़ने वाला है। यहां इंडिया टीवी के दिनभर चलने वाले कॉन्क्लेव ‘चुनाव मंच’ में रजत शर्मा के सवालों का जवाब देते हुए रूपाणी ने कहा, ‘कंग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक ‘चायवाला’ के तौर पर दिखाकर गरीबों का मजाक उड़ाया है। पार्टी ने सारे ‘चायवालों’ का मजाक उड़ाया है और दुनिया की नजरों में भारत को बदनाम किया है। उन्हें भारी कीमत चुकानी पड़ेगी’

उन्होंने कहा, ‘इस हरकत से यह जाहिर हो जाता है कि कांग्रेस पार्टी की मानसिकता के मुताबिक प्रधानमंत्री उनके (गांधी-नेहरू) परिवार से होना चाहिए। एक गरीब आदमी प्रधानमंत्री नहीं बन सकता। एक ‘चायवाला’ प्रधानमंत्री नहीं बन सकता। पार्टी का अध्यक्ष परिवार से होना चाहिए।’ जब रजत शर्मा ने याद दिलाया कि डॉक्टर मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री बनाया गया था जबकि वह गरीब परिवार से आते थे, रूपाणी ने मुस्कुराते हुए कहा, ‘उन्होंने मजबूरी में ऐसा किया। सोनिया गांधी प्रधानमंत्री बनने जा रही थीं। आप अच्छी तरह जानते हैं कि वह प्रधानमंत्री क्यों नहीं बनीं। लेकिन कांग्रेस पार्टी उन्हें प्रधानमंत्री बनाना चाहती थी।’

गुजरात के मुख्यमंत्री ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के उन आरोपों को ‘आधारहीन’ करार दिया जिसमें उन्होंने कहा था कि नर्मदा का ज्यादातर पानी उद्योगपतियों को दिया गया। रूपाणी ने कहा, ‘नर्मदा का 78 प्रतिशत पानी लगभग 9,000 गावों और 167 नगरपालिकाओं को दिया जा रहा है। हमने 20 प्रतिशत पानी सिंचाई के लिए दिया है जबकि सिर्फ 2 प्रतिशत पानी ही उद्योगों को दिया जा रहा है। हमारी पहली प्राथमिकता पीने का पानी है, दूसरी प्राथमिकता सिंचाई और तीसरी प्राथमिकता उद्योग हैं।’ 

मुख्यमंत्री ने दावा किया कि वह इस साल की बाढ़ के दौरान राहत कार्यों को देखने के लिए पूरी सरकार के साथ बनासकांठा में 5 दिनों तक डटे रहे जबकि उस समय ‘कांग्रेस के विधायक बेंगलुरु में 5-स्टार रिजॉर्ट में एंजॉय कर रहे थे।’ उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने किसानों और व्यापारी वर्ग के लिए काफी कुछ किया है और GST से जुड़े सभी मुद्दों पर भी काम किया जा रहा है।

देखिए वीडियो-

इंडिया टीवी 'फ्री टू एयर' न्यूज चैनल है, चैनल देखने के लिए आपको पैसे नहीं देने होंगे, यदि आप इसे मुफ्त में नहीं देख पा रहे हैं तो अपने सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क करें।
Write a comment
pulwama-attack
australia-tour-of-india-2019