1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. केरल के कांग्रेस नेताओं ने नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करने पर शशि थरूर की आलोचना की

केरल के कांग्रेस नेताओं ने नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करने पर शशि थरूर की आलोचना की

केरल कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी सांसद शशि थरूर की उनकी इस टिप्पणी को लेकर आलोचना की कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सही चीजों को लेकर प्रशंसा की जानी चाहिए।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: August 25, 2019 22:40 IST
shashi tharoor- India TV
shashi tharoor

अलप्पुझा/तिरुवनंतपुरम: केरल कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी सांसद शशि थरूर की उनकी इस टिप्पणी को लेकर आलोचना की कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सही चीजों को लेकर प्रशंसा की जानी चाहिए। पार्टी के नेताओं की आलोचनाओं से बेपरवाह थरूर ने कहा कि उनके रुख में कुछ भी गलत नहीं है।

विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्नितला ने कहा कि मोदी सरकार की ‘गलतियों’ को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मुल्लापल्ली रामचंद्रन ने कहा कि थरूर का बयान दुर्भाग्यपूर्ण है और वह उनसे बात करेंगे। वे तिरुवनंतपुरम के सांसद थरूर के इस विचार पर प्रतिक्रिया दे रहे थे कि सही चीज करने पर प्रधानमंत्री की सराहना करने से विपक्ष की आलोचना की साख बनेगी।

थरूर और उनके सहयोगी अभिषेक मनु सिंघवी ने पिछले हफ्ते पार्टी नेता जयराम रमेश का समर्थन किया था जिन्होंने कहा है कि मोदी के काम को नहीं स्वीकारने और उन्हें हर समय उन्हें ‘दानव’ की तरह पेश करने से कोई फायदा नहीं होने वाला है। थरूर के रूख पर अलप्पुझा के हरिपद में संवाददाताओं के प्रश्नों के उत्तर में चेन्नितला ने कहा कि केंद्र ऐसे निर्णय ले रहा है जो लोगों को अस्वीकार्य हैं और किसी एक अच्छे काम के लिए उनका महिमामंडन करने की जरूरत नहीं है।

रामचंद्रन ने तिरुवनंतपुरम में पत्रकारों से कहा कि थरूर ने पांच सालों तक भाजपा नीत राजग सरकार का खुलकर विरोध किया है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं नहीं जानता कि पिछले एक हफ्ते में क्या बदलाव आया है। मुझे नहीं मालूम कि वह अब कैसे मोदी सरकार का समर्थन कर सकते हैं।’’ उन्होंने कहा कि वह इस मामले को लेकर उनसे बातचीत करेंगे।

उधर, थरूर ने रविवार को एक मलयालम टीवी चैनल पर कहा, ‘‘जयराम रमेश और सिंघवी ने जो कुछ कहा है, वह गलत नहीं है। यदि मोदी ने कुछ अच्छा किया है तो हमें उसे स्वीकार करना चाहिए। अन्यथा हम लोगों के बीच अपनी साख गंवा बैठेंगे। यदि जरूरत हो हमें उनकी कड़ी आलोचना भी करनी चाहिए।’’

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment