1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. राज्यपाल की बैठक से पहले बीजेपी की मांग, बंगाल में हिंसा पर दखल दे केंद्र सरकार

राज्यपाल की बैठक से पहले बीजेपी की मांग, बंगाल में हिंसा पर दखल दे केंद्र सरकार

आए दिन बंगाल से हिंसा की खबरें आ रही हैं। टीएमसी और बीजेपी के बीच की राजनीतिक खींचातनी इनके कार्यकर्ताओं के बीच खूनी रंग में बदलती जा रही है। दोनों पार्टियां एक-दूसरे पर गुंडागर्दी का आरोप लगाती हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: June 13, 2019 12:32 IST
राज्यपाल की बैठक से पहले बीजेपी की मांग, बंगाल में हिंसा पर दखल दे केंद्र सरकार- India TV
राज्यपाल की बैठक से पहले बीजेपी की मांग, बंगाल में हिंसा पर दखल दे केंद्र सरकार

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल में जारी हिंसा पर राज्य के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने आज अहम बैठक बुलाई है लेकिन बैठक से पहले बीजेपी ने मांग की है कि केंद्र सरकार बंगाल में जारी हिंसा पर दखल दे नहीं तो राज्य में हिंसा और तेज होगी। राज्यपाल ने आज शाम होने वाली बैठक में टीएमसी, बीजेपी, कांग्रेस और वामपंथी दलों के नेताओं को बुलाया है।

Related Stories

इससे पहले प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि अगर पार्टी राज्य में सत्ता में आती है तो उसे ‘‘दूसरा गुजरात’’ बनाने की दिशा में काम करेगी क्योंकि इससे बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार सृजन होगा। 

घोष ने कहा कि पश्चिम बंगाल को बांग्लादेश और जिहादियों के लिए सुरक्षित पनाहगाह में बदलने के बजाय गुजरात में बदलना बेहतर होगा। हाल ही में हुए आम चुनाव के बाद राज्य में भाजपा और तृणमूल कांग्रेस समर्थकों के बीच हिंसा की खबरें आई हैं। 

बनर्जी ने मंगलवार को कहा था कि भाजपा बंगाल को गुजरात बनाने की योजना बना रही है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं जेल चली जाऊंगी लेकिन इसकी अनुमति नहीं दूंगी।’’ बता दें कि पश्चिम बंगाल में सियासी हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। 

आए दिन बंगाल से हिंसा की खबरें आ रही हैं। टीएमसी और बीजेपी के बीच की राजनीतिक खींचातनी इनके कार्यकर्ताओं के बीच खूनी रंग में बदलती जा रही है। दोनों पार्टियां एक-दूसरे पर गुंडागर्दी का आरोप लगाती हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment