1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. नहीं रहे पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली, नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

नहीं रहे पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली, नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

जेटली के फेफड़ों में पानी जमा हो रहा था, जिसकी वजह से उन्हें सांस लेने में दिक्कत आ रही था। यही वजह है कि डॉक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर पर रखा था। उन्हें सॉफ्ट टिशू सरकोमा था, जो एक प्रकार का कैंसर होता है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: August 24, 2019 16:34 IST
नहीं रहे पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली, कांग्रेस ने निधन पर जताया शोक- India TV
नहीं रहे पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली, कांग्रेस ने निधन पर जताया शोक

नयी दिल्ली: पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के निधन पर शनिवार को कांग्रेस ने दुख जताया और उनके परिवार के प्रति संवेदना प्रकट की। पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कहा, ‘‘हमें अरुण जेटली जी के निधन के बारे में सुनकर बहुत दुख हुआ है। दुख की इस घड़ी में हमारी संवेदनाएं और प्रार्थना उनके परिवार के साथ हैं।’’ गौरतलब है कि जेटली का शनिवार को एम्स में निधन हो गया। वह 66 साल के थे। उनका पिछले कई दिनों से उपचार चल रहा था।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जेटली के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त करते हुए कहा कि उनका जाना देश और समाज के लिए अपूरणीय क्षति है। योगी ने ट्वीट किया, ''देश के प्रख्यात विधिवेत्ता एवं पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली जी के निधन की खबर से स्तब्ध हूं।'' उन्होंने कहा, ''अरूण जेटली जी का जाना देश और समाज की ऐसी अपूरणीय क्षति है, जिसकी रिक्तता का अहसास हम लंबे समय तक करते रहेंगे।'' 

Arun Jaitley

Arun Jaitley

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उनके निधन पर शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया, ‘‘पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली के असामयिक निधन के समाचार से दुखी हूं।’’ गहलोत ने जेटली के परिजनों के प्रति सांत्वना जताई। इस बीच, पायलट ने जेटली के निधन को देश के लिए बड़ी क्षति बताया है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘यह सुनकर गहरा दुख हुआ कि जेटली नहीं रहें।’’ पायलट ने कहा कि जेटली के योगदान को देखते हुए उनका जाना देश के लिए बड़ी क्षति है। 

बीकानेर से सांसद व केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने ट्वीट किया, ‘‘भाजपा के वरिष्ठ नेता, पूर्व वित्त मंत्री, मेरे वरिष्ठ सहयोगी और मार्गदर्शक अरुण जेटली जी के निधन से मन अत्यंत दुखी है।’’ मेघवाल ने कहा कि जेटली का निधन भाजपा परिवार ही नहीं, बल्कि सम्पूर्ण राजनीतिक जगत के लिए एक अपूरणीय क्षति है। 

जोधपुर से सांसद और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा, ‘‘भाजपा परिवार के श्रद्धेय, अग्रज, संगठन के प्रबुद्ध स्तम्भ अरुण जेटली का जाना अत्यन्त दुखदाई है।’’ शेखावत ने ट्वीट किया, ‘‘उन्होंने संगठन और सरकार में विभिन्न पदों पर गरिमा से अपना कर्तव्य निभाया है। मेरे जैसे सैंकड़ों कार्यकर्ताओं के लिए आदरणीय अरुण जेटली हमेशा एक मार्गदर्शक की तरह थे।’’ विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने भी जेटली के निधन पर शोक जताया और इसे भाजपा परिवार और राजनीतिक क्षेत्र के लिए अपूरणीय क्षति बताया।

जेटली के फेफड़ों में पानी जमा हो रहा था, जिसकी वजह से उन्हें सांस लेने में दिक्कत आ रही था। यही वजह है कि डॉक्टरों ने उन्हें वेंटिलेटर पर रखा था। उन्हें सॉफ्ट टिशू सरकोमा था, जो एक प्रकार का कैंसर होता है। जेटली के निधन की खबर सुनने के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने अपने हैदराबाद दौरे को खत्म कर दिया है। वह हैदराबाद से दिल्ली के लिए निकल चुके हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment