1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. आज वाराणसी पहुंचेंगे अमित शाह, यूपी में करेंगे 'मिशन-2019' की शुरुआत

आज वाराणसी पहुंचेंगे अमित शाह, यूपी में करेंगे 'मिशन-2019' की शुरुआत

भाजपा सूत्रों की मानें तो इस दौरे में शाह पूर्वाचल के मतदाताओं की मनोभावना समझकर उसके मुताबिक पार्टी को रणनीति तैयार करने की सलाह देंगे। 2014 के लोकसभा चुनाव में वाराणसी, मिर्जापुर और आजमगढ़ मंडल में बसपा ने सीट भले ही नहीं जीती थी, पर उसके प्रत्याशियों को सपा से भी ज्यादा वोट मिले थे।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: July 04, 2018 10:19 IST
आज वाराणसी पहुंचेंगे अमित शाह, यूपी में करेंगे 'मिशन-2019' की शुरुआत- India TV
आज वाराणसी पहुंचेंगे अमित शाह, यूपी में करेंगे 'मिशन-2019' की शुरुआत

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बीच बढ़ती नजदीकीयों और अगले लोकसभा चुनाव में होने जा रहे गठबंधन को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का शीर्ष नेतृत्व भी सजग हो गया है। इस सिलसिले में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह आज वाराणसी और मिर्जापुर में प्रवास के दौरान पूर्वांचल में पार्टी की संभावित रणनीति पर पदाधिकारियों के साथ मंथन करेंगे। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के मिर्जापुर में दौरे के समय एक तरफ जहां पूर्वाचल में पार्टी की संभावित रणनीति पर मंथन होगा वहीं दूसरी ओर आजमगढ़ में प्रधानमंत्री की 15 जुलाई को होने वाली रैली को लेकर भी चर्चा होगी। वह इस दौरान पूर्वांचल के विधायकों और पदाधिकारियों के साथ बैठकर उनकी रैली को लेकर रणनीति तैयार करेंगे।

भाजपा सूत्रों की मानें तो इस दौरे में शाह पूर्वाचल के मतदाताओं की मनोभावना समझकर उसके मुताबिक पार्टी को रणनीति तैयार करने की सलाह देंगे। 2014 के लोकसभा चुनाव में वाराणसी, मिर्जापुर और आजमगढ़ मंडल में बसपा ने सीट भले ही नहीं जीती थी, पर उसके प्रत्याशियों को सपा से भी ज्यादा वोट मिले थे। ऐसे में गठबंधन के बाद हालात बहुत अनुकूल नहीं हैं। मुलायम सिंह यादव द्वारा आजमगढ़ सीट छोड़ने के बाद भाजपा ने यहां अपनी नजर गड़ा दी है।

चार जुलाई के दौरे में यह भी तय हो जाएगा कि मंत्रिमंडल के अगले विस्तार में पूर्वाचल को कैसे महत्व दिया जाए। जमीनी हकीकत की पड़ताल और फीडबैक के बाद मंथन कर तालमेल बढ़ाने पर फैसला किया जाएगा। गोरखपुर-बस्ती मंडल की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंपी गई है, जबकि वाराणसी और मिर्जापुर की कमान फिलहाल अमित शाह ने खुद संभाल ली है।

सूत्रों के मुताबिक, चुनाव से पहले तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शाह के पूर्वाचल दौरों की संख्या बढ़ाई जाएगी, ताकि पार्टी 2017 के विधानसभा चुनाव जैसा परचम 2019 के लोकसभा चुनाव में भी फहरा सके। भाजपा के प्रदेश महासचिव और विधान परिषद सदस्य विजय बहादुर पाठक ने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह चार जुलाई को बनारस और मिर्जापुर के दौरे पर आ रहे हैं। इस दौरान वह पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ बैठकर विचार-विमर्श करेंगे।

वहीं वाराणसी में अमित शाह सोशल मीडिया वॉलिंटियर सम्मेलन को संबोधित करेंगे। भाजपा सोशल मीडिया के माध्यम से ऐसे लोगों को जोड़ने में जुटी हुई है, जो पार्टी की विचारधारा को मानते हैं। सेल से जुड़े लोगों का दावा है कि आगामी लोकसभा चुनाव से पहले पार्टी के प्रचार प्रसार और पार्टी की विचारधारा को फैलाने में फेसबुक, ट्विटर ओर वॉट्सएप काफी कारगर हथियार साबित हो सकते हैं।

उप्र भाजपा इकाई का आईटी विभाग चार जुलाई को आयोजित होने वाले सोशल मीडिया वॉलिंटियर मीट की तैयारी में जुटा हुआ है। सोशल मीडिया वॉलिंटियर मीट वाराणसी में संपन्न होगी। उप्र भाजपा आईटी विभाग के प्रदेश प्रमुख संजय राय ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया वॉलिंटियर मीट में उन लोगों को आमंत्रित किया गया है जो सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म पर सक्रिय हैं और भाजपा और उसकी विचारधारा के पुरजोर समर्थक हैं।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment