1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. सोनिया और राहुल ने किसी रक्षा सौदे में कभी दखल नहीं दिया: पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी

सोनिया और राहुल ने किसी रक्षा सौदे में कभी दखल नहीं दिया: पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी ने अगस्ता वेस्टलैंड मामले में भाजपा पर झूठ गढ़ने का आरोप लगाते हुए सोमवार को कहा कि संप्रग प्रमुख सोनिया गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने संप्रग सरकार के दौरान किसी भी रक्षा सौदे में कभी दखल नहीं दिया।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: December 31, 2018 22:27 IST
AgustaWestland case: Sonia, Rahul never interfered in any defence deal, claims Antony; Shah targets - India TV
AgustaWestland case: Sonia, Rahul never interfered in any defence deal, claims Antony; Shah targets Gandhis

नयी दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व रक्षा मंत्री ए के एंटनी ने अगस्ता वेस्टलैंड मामले में भाजपा पर झूठ गढ़ने का आरोप लगाते हुए सोमवार को कहा कि संप्रग प्रमुख सोनिया गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने संप्रग सरकार के दौरान किसी भी रक्षा सौदे में कभी दखल नहीं दिया। एंटनी ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा कि सरकार और भाजपा झूठ गढ़ने के लिए एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही हैं। यह जानकार मुझे हैरानी हुई है कि मौजूदा सरकार झूठ फैला रही है और जहां कुछ नहीं है उसको लेकर भी कुछ न कुछ गढ़ने की कोशिश कर रही है।

उन्होंने कहा कि मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने अगस्ता वेस्टलैंड सौदे में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई, कभी किसी तरह का दखल नहीं दिया। रक्षा मंत्री के मेरे कार्यकाल के दौरान सोनिया गांधी या राहुल गांधी ने कभी किसी रक्षा सौदे में कभी दखल नहीं दिया। एंटनी ने कहा कि वे सिर्फ बदले की राजनीति कर रहे हैं। गौरतलब है कि संप्रग सरकार में रक्षा मंत्री रहे एंटनी का यह बयान उस वक्त आया है जब राफेल और अगस्ता वेस्टलैंड मामलों को लेकर कांग्रेस और भाजपा एक दूसरे पर लगातार हमले कर रही है।

कांग्रेस का आरोप है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार ने अगस्ता वेस्टलैंड और उसके मालिकों को संरक्षण देने का काम किया है। एंटनी ने कहा कि अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर मामले में भ्रष्टाचार की अरोपों की जानकारी संज्ञान में आने के साथ तत्कालीन संप्रग सरकार ने सीबीआई जांच का आदेश दिया था और इस कंपनी को प्रतिबंधित सूची में डालने की प्रक्रिया शुरू कर दी थी। उन्होंने यह भी दावा किया कि कांग्रेस को कुछ छिपाना होता तो वह सीबीआई जांच का आदेश नहीं देती या मामले में पक्ष रखने के लिए इटली की अदालत नहीं जाती। पूर्व रक्षा मंत्री ने आरोप लगाया कि सरकार और भाजपा राफेल मामले में लगे आरोपों से ध्यान भटकाने का प्रयास कर रही है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment