1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. तृणमूल कांग्रेस का वादा: हिंदू पुजारियों के वास्ते मासिक भत्ते की मांग पर गौर किया जायेगा

तृणमूल कांग्रेस का वादा: हिंदू पुजारियों के वास्ते मासिक भत्ते की मांग पर गौर किया जायेगा

पश्चिम बंगाल के एक मंत्री ने शुक्रवार को कहा कि सरकार हिंदू पुजारियों के लिए मासिक भत्ते की लंबे समय से लंबित मांग पर ‘‘गौर करेगी’’। विपक्षी भाजपा यह आरोप लगाती रही है कि राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति करती है।

Bhasha Bhasha
Published on: August 09, 2019 20:31 IST
Mamata Banerjee- India TV
Image Source : PTI पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के एक मंत्री ने शुक्रवार को कहा कि सरकार हिंदू पुजारियों के लिए मासिक भत्ते की लंबे समय से लंबित मांग पर ‘‘गौर करेगी’’। विपक्षी भाजपा यह आरोप लगाती रही है कि राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति करती है।

इसी आरोप के बीच इस समुदाय तक पहुंचने के प्रयास के तहत तृणमूल कांग्रेस के नेता और मंत्री राजीव बनर्जी ने कहा, ‘‘हिंदू पुजारी एक बहुत बड़ा समुदाय है। वे लंबे समय से वंचित हैं। मैंने उन्हें आश्वासन दिया है कि मासिक भत्ते की उनकी मांग पर गौर किया जाएगा।’’

पश्चिम बंगाल सनातन ब्राह्मण सम्मेलन के इतर उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘हमें लगता है कि उन्हें मासिक भत्ता मिलना चाहिए क्योंकि सैकड़ों पुजारी हैं जिन्हें अपने परिवार को चलाने में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।’’

भाजपा प्राय: यह आरोप लगाती रही है कि तृणमूल कांग्रेस तुष्टिकरण की राजनीति में शामिल है। ऐसे में इस बयान को महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इस सम्मेलन के लिए संगठन के अध्यक्ष श्रीधर शास्त्री ने कहा कि ब्राह्मण राज्य में वंचित रहे हैं।

शास्त्री ने कहा, ‘‘हमारा कोई राजनीतिक जुड़ाव नहीं है। हम बस इतना चाहते हैं कि हमारी मांगों को सुना जाए। हम लंबे समय से अपनी मांगों को रखते आ रहे हैं। अगर तृणमूल कांग्रेस इसे पूरा नहीं करेगी, तो कोई और करेगा। जो भी हमारी मांगे पूरी करेगा, हम उसका समर्थन करेंगे।’’

लगभग 1.83 लाख पुजारी शास्त्री के संगठन के सदस्य हैं। उन्होंने कहा कि 35,000 गरीब पुजारियों की एक सूची जारी की गई है जिन्हें 2,000 रुपये का मासिक भत्ता दिया जाना चाहिए। भत्ते पर तृणमूल कांग्रेस के वादे पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष ने पूछा कि ममता बनर्जी सरकार को ‘‘हिंदू पुजारियों के कष्ट’’ को देखने में कितना समय लगा?’’

उन्होंने कहा, ‘‘तृणमूल कांग्रेस सरकार ने बहुत पहले मुस्लिम मौलवियों के लिए भत्ते की घोषणा की थी लेकिन हमारी मांगों पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। अब वे अपना आधार खो चुके हैं और वे ये घोषणाएं कर रहे हैं। हमें यह देखना होगा कि वे वास्तव में इन वादों को पूरा करते हैं या नहीं।’’ भाजपा ने इस वर्ष हुए आम चुनाव में राज्य की 42 लोकसभा सीटों में से 18 सीटों पर जीत दर्ज की थी जबकि तृणमूल ने 22 सीटें जीतीं थी। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment