1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. 'स्‍टेच्‍यू ऑफ यूनिटी' ने तोड़ा चीन का रिकॉर्ड, ये हैं दुनिया की 5 सबसे ऊंची मूर्तियां

'स्‍टेच्‍यू ऑफ यूनिटी' ने तोड़ा चीन का रिकॉर्ड, ये हैं दुनिया की 5 सबसे ऊंची मूर्तियां

लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की 143वीं पुण्यतिथि के मौके पर 31 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया की सबसे ऊंची 'स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी' का अनावरण किया।

Sachin Chaturvedi Sachin Chaturvedi
Updated on: October 31, 2018 10:19 IST
Statue of Unity- India TV
Statue of Unity

लौह पुरुष सरदार वल्‍लभ भाई पटेल की 143वीं पुण्‍यतिथि के मौके पर 31 अक्‍टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया की सबसे ऊंची 'स्‍टेच्‍यू ऑफ लिबर्टी' का अनावरण किया। मात्र 4 साल के भीतर निर्मित हुई इस प्रतिमा की कुल ऊंचाई 182 मीटर है। इसको बनाने की लागत 2989 करोड़ रुपए आई है। भारत की शान बनी स्‍टेच्‍यू ऑफ लि‍बर्टी दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति भी बन गई है। इससे पहले दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति चीन में थी। आइए जानते हैं दुनिया की 5 सबसे ऊंची मूर्तियों के बारे में (कुतुब मीनार से ढाई गुना और सामान्य आदमी से 100 गुना ऊंची होगी सरदार पटेल की प्रतिमा, जानिए 10 खास बातें)

स्‍प्रिंग टेंपल (चीन) 

spring temple

spring temple

यह मूर्ति चीन के हेनान प्रांत में लुसान नामक स्‍थान पर स्थित है। भगवान बुद्ध इस मूर्ति की स्‍थापना 2002 में हुई थी। इसकी कुल ऊंचाई 153 मीटर है। यह प्रतिमा 20 मीटर ऊंचे कमल पर मौजूद है।  

लेतकुन सेतक्‍यार (म्‍यामार) 

laykyun setkyar

laykyun setkyar

स्‍टेच्‍यू ऑफ यूनिटी के अस्‍तित्‍व में आने के बाद दुनिया की यह तीसरी सबसे ऊंची मूर्ति म्‍यामार के मोन्‍यावा में है। यह मूर्ति भी गौतम बुद्ध की है। इसकी ऊंचाई 130 मीटर है। यह मूर्ति 13.5 मीटर ऊंचे सिंघासन पर खड़ी है। 

उशीकू दाइबुत्‍सु (जापान) 

ushiku daibutsu

ushiku daibutsu

दुनिया की चौथी सबसे ऊंची मूर्ति जापान में है। यह मूर्ति कांसे से तैयार की गई है। इसकी लंबाई 120 मीटर है। 

गुआन यिन (चीन) 

guan yin

guan yin

बौद्ध देवी की यह प्रतिमा चीन के हैनान प्रांत में है। इसकी ऊंचाई 108 मीटर है। इस मूर्ति को बनने में 6 साल का वक्‍त लगा।  

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment