1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. कोस्टगार्ड के हेलीकॉप्टर की महिला को-पायलट की मौत, 10 मार्च को हादसे में हुई थीं घायल

कोस्टगार्ड के हेलीकॉप्टर की महिला को-पायलट की मौत, 10 मार्च को हादसे में हुई थीं घायल

महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में 10 मार्च को दुर्घटनाग्रस्त हुए भारतीय तटरक्षक के हेलीकॉप्टर की घायल महिला को-पायलट ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: March 28, 2018 23:42 IST
helicopter crash- India TV
Image Source : PTI helicopter crash

मुंबई: महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में 10 मार्च को दुर्घटनाग्रस्त हुए भारतीय तटरक्षक के हेलीकॉप्टर की घायल महिला को-पायलट ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। यह जानकारी बुधवार को यहां एक अधिकारी ने दी। सहायक कमांडेंट, कैप्टन पेनी चौधरी का पार्थिव शरीर उनके घर हरियाणा के करनाल भेजा गया जहां गुरुवार को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।सहायक कमांडेंट, कैप्टन पेनी चौधरी को इस दुर्घटना के दौरान गंभीर चोट लगी थी और उन्हें लाइफ सर्पोट सिस्टम पर रखा गया था। उन्होंने नौसेना के आईएनएचएस अश्विनी अस्पताल में मंगलवार शाम अंतिम सांस ली। 

18 दिन पहले महाराष्ट्र के रायगढ़ में मुरुड के पास तटरक्षक के हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने और हेलीकॉप्टर का रोटर उनके सिर में लगने के कारण उनके सिर में चोटें लगी थी और आंतरिक रक्तस्राव हो रहा था, जिसका इलाज चल रहा था। तकनीकी खामी आने से पहले हेलीकॉप्टर डिप्टी कमांडेंट बलविंदर सिंह, सहायक कमांडेंट पैनी चौधरी और दो गोताखोरों सहित नियमित उड़ान पर था।

पेनी अपनी दिमागी सूझबूझ और पेशेवराना रुख का परिचय देते हुए हेलीकॉप्टर की सुरक्षित लैंडिंग कराने के लिए उसे मुरुड शहर के आबादी वाले इलाके से दूर समुद्र तट के पथरीले हिस्से की ओर ले गईं।उन्होंने न केवल अपने चालक दल के अन्य सदस्यों के जीवन को बचाया बल्कि उस संभावित आपदा को भी टाल दिया जो मुरुड के आबादी वाले क्षेत्र में हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने पर आ सकती थी। वह पथरीले नदाग्राम तट पर हेलीकॉप्टर के लैंड होने के बाद उससे निकलने में कामयाब रही, लेकिन इस दौरान उनका हेलमेट हेलीकॉप्टर के धीमी गति से चल रहे रोटर ब्लेड से टकरा गया। 

हरियाणा के करनाल की रहने वाली पेनी दिसंबर 2013 में भारतीय तटरक्षक बल में शामिल हुईं थीं और उन्होंने 555 घंटों की उड़ान भरी। मित्रों ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा, "वह एक शानदार, मृदुभाषी अधिकारी थीं और अपने पेशेवर अंदाज और अच्छे व्यवहार के कारण अपने सहकर्मियों के बीच लोकप्रिय थीं। युवा अधिकारी को आईसीजी बिरादरी द्वारा राष्ट्र के प्रति उनके कर्तव्य और निस्वार्थ सेवा के लिए याद किया जाएगा।" 

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban