1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. ICSE की किताब में मस्जिद को बताया गया ध्वनि प्रदूषण का स्रोत, विवाद शुरू

ICSE की किताब में मस्जिद को बताया गया ध्वनि प्रदूषण का स्रोत, विवाद शुरू

ICSE स्कूलों में पढ़ाई जाने वाली एक किताब में एक मस्जिद को ध्वनि प्रदूषण के स्रोत के रूप में पेश करने को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने गुस्से का इजहार किया जिसके बाद प्रकाशक ने माफी मांगी और चित्र को आगे के संस्करणों से हटाने का वादा किया।

Bhasha [Updated:02 Jul 2017, 2:06 PM IST]
Image- India TV
Image

नई दिल्ली: ICSE स्कूलों में पढ़ाई जाने वाली एक किताब में एक मस्जिद को ध्वनि प्रदूषण के स्रोत के रूप में पेश करने को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों ने गुस्से का इजहार किया जिसके बाद प्रकाशक ने माफी मांगी और चित्र को आगे के संस्करणों से हटाने का वादा किया। सेलिना पब्लिशर्स द्वारा प्रकाशित विज्ञान की पाठ्यपुस्तक में ध्वनि प्रदूषूण के कारणों पर एक अध्याय है।

सोशल मीडिया पर फैली तस्वीर में ट्रेन, कार, विमान और एक मस्जिद के साथ तेज ध्वनि को दर्शाने वाले चित्र हैं जिसके सामने एक एक व्यक्ति दिख रहा है जिसने खीझकर अपने कान बंद कर रखे हैं। सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने वाले लोगों ने किताब वापस लेने की मांग को लेकर अब एक ऑनलाइन याचिका शुरू की है। ICSE बोर्ड के अधिकारी टिप्पणी के लिए मौजूद नहीं थे। प्रकाशक ने चित्र के लिए माफी मांगी है।

प्रकाशक हेमंत गुप्ता ने सोशल मीडिया साइटों पर लिखा, ‘सभी संबंधित लोगों को बताना चाहता हूं कि हम किताब के आने वाले संस्करणों में चित्र बदल देंगे। अगर इससे किसी की भी भावनाएं आहत हुई हों तो हम इसके लिए माफी मांगते हैं।’ इस साल अप्रैल में मशहूर गायक सोनू निगम ने यह कहकर विवाद को जन्म दिया था कि उनके घर के पास स्थित मस्जिद की अजान की आवाज से उनकी नींद टूट जाती है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: Textbook depicts mosque as noise pollutant, invites row
Write a comment