1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. दिल्ली-NCR में अचानक बदला मौसम, तेज हवा के साथ बारिश की चेतावनी

दिल्ली-NCR में अचानक बदला मौसम, तेज हवा के साथ बारिश की चेतावनी

शिमला में बर्फबारी हुई तो इससे सटे हर इलाकों में असर दिखने लगा। सोलन में इतनी बारिश हुई कि सड़कों पर घुटनों तक पानी भर गया। शाम होते होते ऐसी हालत हो गई कि मकानों और दुकानों में पानी घुस गया।

Written by: IndiaTV Hindi Desk [Updated:09 May 2018, 3:45 PM IST]
Weather representational image- India TV
Image Source : PTI Weather representational image

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों में आज दोपहर बाद अचानक मौसम बदल गया है। आसमान में बादल छाए हुए हैं और मौसम विभाग की तरफ से तेज हवा के साथ बारिश की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ का असर अभी बना रहेगा और रह-रहकर मौसम में इस तरह के बदलाव होते रहेंगे।

मई में मौसम आउट ऑफ कंट्रोल, बेमौसम बर्फबारी से पहाड़ों पर सफेद सैलाब

जिस मौसम में लोग पसीने पोंछते नजर आते हैं उस मौसम में लोग सर्दी से परेशान हैं। आसमान से ऐसी सफेद आफत बरस रही है कि मई महीने में पहाड़ों पर पारा लुढकर 10 और 15 डिग्री पहुंच गया है। सड़कों पर मुसीबत की चादर बिछ गई है। कई सालों बाद मई में पहाड़ों पर बेहिसाब बर्फबारी हो रही है। पहाड़ों पर ऐसा कोई शहर नहीं जहां या तो बारिश नहीं हो रही या फिर बर्फबारी नहीं हो रही। शिमला में पहले तो सुबह होते ही जबरदस्त बारिश होने लगी। दोपहर होते होते बारिश इतनी तेज हो गई कि अंधेरा छा गया और उसके बाद ये खबर आ गई कि शिमला के कई इलाकों में ऐसी बर्फबारी हो रही है जैसे सर्दी का मौसम हो।

शिमला में बर्फबारी हुई तो इससे सटे हर इलाकों में असर दिखने लगा। सोलन में इतनी बारिश हुई कि सड़कों पर घुटनों तक पानी भर गया। शाम होते होते ऐसी हालत हो गई कि मकानों और दुकानों में पानी घुस गया। मई महीना पहाड़ों पर ऐसा भारी पड़ गया है कि ऐसा कोई इलाका नहीं जहां बारिश नहीं हो रही हो। देहरादून हो या चमोली हर जगह बारिश लोगों के लिए आफत बनती जा रही है। चमोली में तो कई लोग ओलों से घायल हो गये और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ गया।

जम्मू में भी ऐसी बर्फबारी हो रही है कि पुराना सारा रिकॉर्ड टूटता जा रहा है। सबके जेहन में एक ही सवाल है मई में मौसम इतना उल्टा-पुल्टा क्यों हो गया है। अचानक से ऐसा क्या हो गया कि मौसम ने ऐसी करवट ले ली है। जम्मू में इतनी बर्फबारी हुई है कि दुकान, मकान सबकी छतें सफेद हो गई है। इतनी बर्फबारी हो रही है कि सड़कों पर सन्नाटा छा गया है।

उत्तराखंड के पवित्र धाम केदारनाथ और बद्रीनाथ में भी जमकर बर्फबारी हुई। पूरी केदार घाटी और बद्रीनाथ का इलाका सफेद चादर से मानो ढंक गया। पहाड़ों पर ऐसी बर्फबारी हुई कि केदारनाथ की तरफ जाने वाले हर रास्ते बंद हो गये। केदारनाथ की तरह ही बद्रीनाथ में भी पिछले दो दिनों से ऐसी बर्फबारी हुई कि लोग जहां के तहां फंस गए।

बर्फबारी की वजह से कल चार धाम यात्रा को रोक तक दिया गया था लेकिन आज चार धाम यात्रा को फिर से शुरू कर दिया गया है। हालांकि मौसम विभाग का अलर्ट ये है कि अगले 24 से 48 घंटे तक उत्तराखंड के कई इलाकों में बारिश होगी।

फिलहाल तस्वीर यही है कि पहाड़ी इलाकों में भारी बर्फबारी से 15 डिग्री तक तापमान हर इलाके का गिर गया है। ऊंचाई वाले इलाकों में लोगों को घर से नहीं निकलने का अलर्ट जारी किया गया है। हिमाचल में तो भी भारी बर्फबारी की तक चेतावनी जारी की गई है। कुल मिलाकर वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते मई में लोगों की मुसीबत अभी और बढ़ने वाली है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: मई में मौसम आउट ऑफ कंट्रोल, बेमौसम बर्फबारी से पहाड़ों पर सफेद सैलाब - Snowfall on high reaches, erratic weather condition continue
Write a comment