1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. सुन्नी वक्फ बोर्ड ने बाबरी मस्जिद तोड़ने वालों को बताया हिन्दू तालिबानी, शिया बोर्ड का कोर्ट में मंदिर को समर्थन

सुन्नी वक्फ बोर्ड ने बाबरी मस्जिद तोड़ने वालों को बताया हिन्दू तालिबानी,कोर्ट में शिया वक्फ बोर्ड का मंदिर का समर्थन

अयोध्या में विवाद में कोर्ट में चल रही सुनवाई में दोनों बोर्ड आमने-सामने आ गए हैं।

Edited by: IndiaTV Hindi Desk [Published on:13 Jul 2018, 5:33 PM IST]
शिया वक्फ बोर्ड के...- India TV
Image Source : PTI शिया वक्फ बोर्ड के चैयरमेन वसीम रिजवी।  

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट में चल रहे बाबरी मस्जिद और राम जन्मभूमि विवाद में अब शिया वक्फ बोर्ड भी शामिल हो गया है। बोर्ड ने विवादित जगह पर मंदिर निर्माण का ये कहते हुए समर्थन किया है कि, "बाबरी मस्जिद का संरक्षक एक शिया था और सुन्नी वक्फ बोर्ड या कोई भी और सभी भारतीय मुसलमानों के प्रतिनिधित्व नहीं करता। हम इस विवाद को शांति से हल करना चाहते हैं।" बोर्ड के चैयरमेन वसीम रिजवी ने कहा है कि,"विवादित  जगह पर कभी कोई मस्जिद नहीं थी और यहां कभी कोई मस्जिद नहीं हो सकती। ये भगवान राम की जन्मस्थली है यहां सिर्फ राममंदिर बन सकता है। बाबर के प्रति सहानुभूति रखने वालों की किस्मत में हारना लिखा है।'

इससे पहले मुसलमानों और सुन्नी वक्फ बोर्ड की ओर से पेश सीनियर ऐडवोकेट राजीव धवन ने कहावरिष्ठ वकील राजीव धवन ने कोर्ट में कहा कि शिया वक्फ बोर्ड को इस केस में बोलने का कोई हक नहीं है। जिस तरह तालिबान ने बामियान में भगवान बौद्ध की मूर्ति तबाह की थी वैसे ही हिन्दू तालिबान ने बाबरी मस्जिद तबाह की है।  केस की अगली सुनवाई 20 जुलाई को होगी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: सुन्नी वक्फ बोर्ड ने बाबरी मस्जिद तोड़ने वालों को बताया हिन्दू तालिबानी,कोर्ट में शिया वक्फ बोर्ड का मंदिर का समर्थन
Write a comment