1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. टैरर फंडिंग मामला: 12 जुलाई तक जेल में रहेंगे मसरत आलम, शब्‍बीर शाह और आसिया अंद्राबी

टैरर फंडिंग मामला: 12 जुलाई तक जेल में रहेंगे मसरत आलम, शब्‍बीर शाह और आसिया अंद्राबी, अदालत ने न्‍यायिक हिरासत में भेजा

टैरर फंडिंग मामला: 12 जुलाई तक जेल में रहेंगे मसरत आलम, शब्बीर शाह और आसिया अंद्राबी, अदालत ने न्यायिक हिरासत में भेजा

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: June 14, 2019 13:08 IST
Terror Funding- India TV
Terror Funding

आतंकवाद को वित्‍तीय मदद पहुंचाने के मामले में इसी महीने गिरफ्तार किए गए मसरत आलम, शब्‍बीर शाह और आसिया अंद्राबी को अभी जेल में रहना होगा। जम्‍मू कश्‍मीर के तीनों अलगाववादी नेताओं को 30 दिन की न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया है। पटियाला हाउस स्थित एनआईए कोर्ट ने ये फैसला सुनाया है। इन तीनों से नेशनल इंवेस्टिगेटिंग एजेंसी (एनआईए) पूछताछ कर रही थी। 

एनआईए कस्टडी खत्म होने पर इन्हें अदालत में पेश किया गया। एनआईए ने अदालत को बताया कि आरोपियों से इस वक्त कोई पूछताछ की जरूरत नहीं है। एनआईए का तर्क सुनने के बाद अदालत ने तीनों को 30 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। 

एनआईए की पूछताछ में आसिया अंद्राबी ने खुलासा किया था कि वह पाकिस्तानी सेना के एक अधिकारी के जरिए लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज सईद के करीब आई। अधिकारी दुख्तारन-ए-मिल्लत नेता अंद्राबी का रिश्तेदार था। अंद्राबी के साथ ही दो अलगाववादी नेताओं से एनआईए ने पूछताछ की। 

एनआईए सूत्रों के मुताबिक, अंद्राबी का भतीजा पाकिस्तान सेना में कैप्टन रैंक का अधिकारी है। उसका एक अन्य करीबी रिश्तेदार पाकिस्तान सेना और खुफिया एजेंसी आईएसआई के संपर्क में है। अंद्राबी के रिश्तेदार दुबई और सऊदी अरब में भी हैं जहां से वह फंड प्राप्त करती है और भारत के खिलाफ गतिविधियों में इस्तेमाल करती है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
yoga-day-2019