1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. 'भारत के वीर' के तहत 46 करोड़ रुपये हुए इकट्ठा, शहीदों के परिवार की होगी मदद

'भारत के वीर' के तहत 46 करोड़ रुपये हुए इकट्ठा, शहीदों के परिवार की होगी मदद

सरकार ने सोमवार को कहा कि शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के लिए सरकारी पोर्टल 'भारत के वीर' के तहत 46 करोड़ रुपये का दान आया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 18, 2019 20:36 IST
Representational Image- India TV
Image Source : PTI Representational Image

नई दिल्ली: सरकार ने सोमवार को कहा कि शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के परिवार के लिए सरकारी पोर्टल 'भारत के वीर' के तहत 46 करोड़ रुपये का दान आया है। सरकारी बयान के अनुसार, "गुरुवार से करीब 80,000 लोग 20 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि का योगदान देने सामने आए।" बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा CRPF के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद से लोगों के इस पोर्टल के तहत दान में तेजी आई है। हमले में 40 CRPF के जवान शहीद हुए हैं।

‘भारत के वीर’ एक सरकारी ऑनलाइन पोर्टल है, जिसे गृह मंत्री राजनाथ सिंह और अक्षय कुमार ने पिछले साल 9 अप्रैल 2017 को लॉन्च किया था। इसका लक्ष्य 1 जनवरी 2016 से देश के लिए शहीद हुए अर्धसैनिक बल के जवानों के परिजनों की आर्थिक सहायता करने के लिए रुपये जुटाना है। इसी के तहत अर्धसैनिक बलों के शहीदों के परिवार की आर्थिक मदद की जाती है।

पुलवामा में शहीद हुए CRPF के 40 जवानों के परिवार को आर्थिक मदद देने को लेकर ‘भारत के वीर’ पोर्टल ने 15 लाख रुपये हर परिवार को देने का ऐलान किया है। ट्वीट के जरिए ऐलान करने हुए लिखा गया कि ‘#BharatKeVeer पोर्टल को मिले भारी समर्थन के लिए हम आपको धन्यवाद देते हैं। आपके योगदान ने सभी CRPF शहीदों के परिवारों को अधिकतम 15 लाख रुपये प्रति परिवार प्राप्त करने में मदद की है। हालांकि, आप अब भी कोष में योगदान कर सकते हैं जिसे सभी परिवारों के लिए इस्तेमाल किया जाएगा।’

वहीं, सूरत में नव विवाहित जोड़ों ने शादी के मौके पर मिले शगुन को पुलवामा में शहीद हुए जवानों के परिवार को देने का ऐलान किया है। सामूहिक शादी में हिस्सा लेने वाले 262 जोड़ों को 60 लाख रुपये का शगुन मिला है, जिसे सौराष्ट्र पटेल सेवा समाज समिति शहिद के परिवारों को देगी।

(इनपुट- IANS)

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment