1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. एनबीए ने रिटायर्ड जस्टिस ए.के. सीकरी को एनबीएसए का चेयरपर्सन नियुक्त किया

एनबीए ने रिटायर्ड जस्टिस ए.के. सीकरी को एनबीएसए का चेयरपर्सन नियुक्त किया

रिटायर्ड जस्टिस ए.के. सीकरी वर्तमान चेयरपर्सन रिटायर्ड जस्टिस आर.वी. रविंद्रन का स्थान लेंगे, जो 25 मई को अपना कार्यकाल पूरा कर रहे हैं।

India TV News Desk India TV News Desk
Updated on: May 14, 2019 20:55 IST
JUSTICE SIKRI- India TV
Image Source : PTI जस्टिस सीकरी बने एनबीएसए के अध्यक्ष

नई दिल्ली। नेशनल ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन (एनबीए) ने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस ए.के. सीकरी को न्यूज ब्रॉडकास्टिंग स्टैंडर्ड अथॉरिटी का चेयरपर्सन नियुक्त किया है। वह आने वाली 26 मई से अपना कार्यभार संभालेंगे। एनबीएसए उन न्यूज चैनलों के आत्म नियमन के लिए एक स्वतंत्र संस्था है, जो कि एनबीए के सदस्य हैं। रिटायर्ड जस्टिस ए.के. सीकरी वर्तमान चेयरपर्सन रिटायर्ड जस्टिस आर.वी. रविंद्रन का स्थान लेंगे, जो 25 मई को अपना कार्यकाल पूरा कर रहे हैं।

जस्टिस सीकरी के एनबीएसए के चेयरपर्सन बनने पर एनबीए के अध्यक्ष रजत शर्मा ने कहा कि जस्टिस सीकरी के अनुभव का फायदा निश्चित ही न्यूज ब्रॉडकास्टर्स को मिलेगा। उन्होंने कहा कि एनबीएसए स्व नियामक संस्था है जो न्यूज इंडस्ट्री में प्रसारण आचार संहिता लागू करती है। उन्होंने ये भी कहा कि ये संस्था एनबीए की किसी भी तरह की दखलअंदाजी से पूरी तरह मुक्त रहती है।

आपको बता दें कि रिटायर्ड जस्टिस सीकरी ने साल 1977 में खुद को दिल्ली बार काउंसिल के साथ बतौर वकील नामित किया था। जस्टिस सीकरी 7 जुलाई 1999 को दिल्ली हाई कोर्ट के जज नियुक्त किए गए औऱ 10 अक्तूबर 2011 को वो दिल्ली हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस बने।  साल 2012 में जस्टिस सीकरी को पदोन्नत करते हुए पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट का चीफ जस्टिस बना दिया गया। जस्टिस सीकरी 12 अप्रैल 2013 में सुप्रीम कोर्ट में जज बने।  बतौर जज जस्टिस सीकरी ने सभी प्रकार के क्षेत्राधिकार से जुड़े कई ऐतिहासिक निर्णय दिए गए। जस्टिस सीकरी ने साल 1984 से 1989 में बीच दिल्ली विश्वविद्याल के कैंपस लॉ सेंटर में बतौर शिक्षक छात्रों को पढ़ाया भी है। वह कई कॉलेजों की गवर्निंग बॉडी से भी समय-समय पर जुड़े रहे।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment