1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. दिवाली पर राम रहीम की 'अय्याशी', विदेशी लड़कियों संग डांस और मस्ती

दिवाली पर राम रहीम की 'अय्याशी', विदेशी लड़कियों संग डांस और मस्ती

बाबा की रंगीन दिवाली का सारा जिम्मा हनीप्रीत के पास ही थी। कभी डेरे में रहे हंसराज चौहान के मुताबिक हनीप्रीत दिवाली वाली रात बाबा के लिए खास तौर से दीपों वाली लड़कियों का इंतजाम करती थी। दीप वाली लड़कियां आश्रम की वो साध्वियां और होस्टल में रहने वाली

India TV News Desk India TV News Desk
Published on: October 18, 2017 11:26 IST
honeypreet-ram-rahim- India TV
honeypreet-ram-rahim

नई दिल्ली: अपनी शानो-शौकत और अय्याशी के लिए बदनाम बाबा गुरमीत सिंह राम रहीम के अनगिनत किस्से-कहानियां आप सुन चुके हैं। अब उसका एक और राज़ बेपर्दा हुआ है जो जुड़ा है बलात्कारी बाबा की रंगीन दिवाली से। इस बार तो राम रहीम की दीवाली काली हो चुकी है। रौशनी का त्यौहार वो जेल की काल-कोठरी में बिताएगा लेकिन जब वो आज़ाद था तो ऐसी रंगीन दिवाली मनाता था कि देखने वाले दंग रह जाते थे। बाबा राम रहीम की दिवाली में देसी और विदेशी लड़कियों का मजमा लगता था और राम रहीम उन्हीं के साथ मनाता था दिवाली का जश्न। ये भी पढ़ें: मिल गया आरुषि का असली 'हत्यारा'!

दिवाली की रात बाबा के लिए अय्याशी का एक और जरिया होती थी। यकीन मानिए राम रहीम की दिवाली का जैसा जिक्र डेरे में रहने वाले कुछ राजदार कर रहे हैं उसके बारे में जानकर आपको भरोसा नहीं होगा। दरअसल दिवाली तो एक बहाना भर होती थी। इस मौके पर राम रहीम रात करीब 2 बजे तक सिर्फ लड़कियों से घिरा रहता था। उसके आसपास और किसी को जाने की इजाज़त ही नहीं होती थी।

 
दिवाली मनाने का राम रहीम का अपना एक खास अंदाज होता था। दुनिया को दिखाने के लिए बाबा दिवाली की शाम डेरे में पहुंचे भक्तों के बीच आता था लेकिन भक्त उसके आने से पहले ही पूरे डेरे को दियों से सजा देते थे। राम रहीम की एंट्री के बाद वो खुद हाथ में मोमबत्ती लेकर दिये जलाता था। ये सब तो बाबा आम भक्तों को दिखाने के लिए करता था लेकिन असली दिवाली तो वो होती थी जिसका इंतजाम बाबा की गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत करती थी।

बाबा की रंगीन दिवाली का सारा जिम्मा हनीप्रीत के पास ही थी। कभी डेरे में रहे हंसराज चौहान के मुताबिक हनीप्रीत दिवाली वाली रात बाबा के लिए खास तौर से दीपों वाली लड़कियों का इंतजाम करती थी। दीप वाली लड़कियां आश्रम की वो साध्वियां और होस्टल में रहने वाली स्टूडेंट्स होती थीं जो राम रहीम के रास्ते में घी के दीये हाथों लेकर खड़ी होती थी ताकि बाबा का स्वागत कर सकें।   

डेरा के पूर्व सेवादारों के मुताबिक बाबा राम रहीम को दिवाली लड़कियों के साथ मनाना पसंद था। सेवादारों के मुताबिक दिवाली की रात जश्न को रंगीन बनाने के लिए विदेशों से खासतौर पर कई खूबसूरत लड़कियों को बुलाया जाता था। खुलासा हुआ है कि ये सारा इंतजाम खुद हनीप्रीत करती थी। हनीप्रीत ये पुख्ता करती थी कि दिवाली के जश्न में बाबा के साथ सिर्फ लड़कियां ही मौजूद रहें।

बाबा राम रहीम और डेरा को करीब से जानने वालों का दावा है कि दिवाली की रात राम रहीम वैसे तो करीब 1 हजार लोगों को डेरे में बुलाता था लेकिन सिर्फ घंटे भर के अंदर ही जश्न में मौजूद मर्दों को बाबा रवाना कर देता था। इसके बाद राम रहीम दिवाली मनाने के लिए लड़कियों को साथ लेकर गुफा की तरफ जाता था। पूर्व सेवादारों का दावा हैं कि राम रहीम रात 2 बजे तक लड़कियों से घिरा रहता था। वो कभी आतिशबाजी करता था तो कभी लड़कियों के साथ तेज़ म्यूज़िक पर डांस करता था।

बाबा की रंगीन दिवाली को लेकर डेरे के पूर्व सेवादार हंसराज चौहान ने बाबा की रंगीन दिवाली को लेकर एक और शर्मनाक खुलासा किया। बकौल हंसराज बाबा आशीर्वाद के नाम पर लड़कियों के साथ अश्लील बातें करता था। खुलासा हुआ है कि दिवाली की रात बाबा डेरे में मौजूद लड़कियों से गंदी बातें करता था और वो बाबा का आशीर्वाद समझकर खामोश रहती थीं।

दिवाली के जश्न के दौरान राम रहीम लड़कियों के साथ मौज मस्ती तो करता ही था, उसने दिवाली को मोटी कमाई का जरिया भी बनाया हुआ था। डेरे में आने वाले भक्तों से वो दान में लाखों रुपए वसूलता था। उसमें से कुछ रुपए के पटाखे खरीदे जाते थे और बाद में राम रहीम उन्हीं पटाखों को भक्तों के बीच बांटकर दरियादिली दिखाता था।

बाबा राम रहीम की रंगीन दिवाली की जितनी कहानियां आप सुनेंगे आप उतना ही हैरान होंगे लेकिन बाबा की ये दिवाली अब इतिहास बन गई है। इस बार तो उसे दीपावली काल कोठरी में गुजारनी है लेकिन एक बात पक्की है अपनी रंगीन दिवाली को याद करके बलात्कारी बाबा दिवारों से सिर जरुर टकराएगा। देखें वीडियो अगले स्लाइड में........

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment