1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Rajat Sharma’s Blog: भारत में नीरव मोदी का प्रत्यर्पण विजय माल्या से ज्यादा तेजी से हो सकता है

Rajat Sharma’s Blog: भारत में नीरव मोदी का प्रत्यर्पण विजय माल्या से ज्यादा तेजी से हो सकता है

इन दोनों भगोड़ों के प्रत्यर्पण के लिए भारत सरकार की अपील ब्रिटिश अधिकारियों के समक्ष लंबित हैं।

Rajat Sharma Rajat Sharma
Published on: March 21, 2019 13:51 IST
Rajat Sharma | India TV- India TV
Rajat Sharma | India TV

लंदन पुलिस ने मंगलवार को एक स्थानीय बैंक में खाता खोलने पहुंचे भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को दबोच लिया। उसे बुधवार को लंदन की एक अदालत में पेश किया गया, जहां मैजिस्ट्रेट ने उसकी जमानत अर्जी को खारिज कर दिया और 29 मार्च तक हिरासत में भेज दिया। मैजिस्ट्रेट ने नीरव मोदी को ‘फ्लाइट रिस्क’ करार दिया, जिसका अर्थ है कि वह जमानत का फायदा उठाकर यूके से रफूचक्कर हो सकता है।

भगोड़े हीरा कारोबारी पर धोखाधड़ी करने और आपराधिक संपत्ति छुपाने की साजिश रचने का आरोप लगाया गया है। नीरव मोदी अब 29 मार्च को मुख्य मजिस्ट्रेट के सामने पेश होगा। CBI और प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों का मानना है कि विजय माल्या के प्रत्यर्पण के लिए वर्तमान में चल रही लंबी खींचतान की तुलना में नीरव मोदी के प्रत्यर्पण की प्रक्रिया तेज होगी।

दरअसल, दोनों मामले अलग तरह के हैं। भगोड़ा उद्योगपति विजय माल्या वैध पासपोर्ट पर ब्रिटेन गया था और उसका पासपोर्ट बाद में रद्द किया गया था। वहीं, नीरव मोदी ने एक निरस्त भारतीय पासपोर्ट पर कई देशों की यात्रा की और अवैध रूप से ब्रिटेन में दाखिल हुआ। इन दोनों भगोड़ों के प्रत्यर्पण के लिए भारत सरकार की अपील ब्रिटिश अधिकारियों के समक्ष लंबित हैं।

CBI और ED, दोनों ने नीरव मोदी द्वारा किए गए बैंक फर्जीवाड़े पर दस्तावेजी साक्ष्यों को सूचीबद्ध करते हुए विस्तृत चार्जशीट दायर की है। इनमें फर्जी LoUs (लेटर ऑफ अंडरटेकिंग), ई-मेल बातचीत, बैंक ट्रांसफर और मनी लॉन्ड्रिंग के लिए यूके सहित कम से कम 15 देशों में शेल कंपनियों के इस्तेमाल के साक्ष्य दिए गए हैं। अपनी चार्जशीट में CBI और ED ने पंजाब नैशनल बैंक से कथित रूप से गबन किए गए 7,000 करोड़ रुपये में से लगभग 6,400 करोड़ रुपये की अवैध लॉन्ड्रिंग का दस्तावेजीकरण किया है। भारत में नीरव मोदी की संपत्तियों को कुर्क किया जा रहा है।

नीरव मोदी की गिरफ्तारी और उसके प्रत्यर्पण की प्रक्रिया निश्चित रूप से प्रधानमंत्री मोदी की एक और उपलब्धि होगी, जो आगामी कुछ दिनों में पूरे देश में चुनाव प्रचार कर रहे होंगे। इस दौरान लोगों को संदेश दिया जाएगा कि 'चौकीदार' पूरी मुस्तैदी से 'चोरों' को आपना शिकार बना रहा है। इस तरह राहुल गांधी के नारे ‘चौकीदार चोर है’ की हवा निकल सकती है। (रजत शर्मा)

देखें, ‘आज की बात, रजत शर्मा के साथ’ 20 मार्च का फुल एपिसोड

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment