1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. पीएनबी घोटाला : इंटरपोल ने नीरव मोदी के भाई के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया

पीएनबी घोटाला : इंटरपोल ने नीरव मोदी के भाई के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया

इंटरपोल ने दो अरब डॉलर के पीएनबी घोटाला मामले में मुख्य आरोपी नीरव मोदी के सौतेले भाई नेहल मोदी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस (आरसीएन) जारी किया है। 

Bhasha Bhasha
Published on: September 13, 2019 19:37 IST
PNB Fraud- India TV
PNB Fraud

नयी दिल्ली: इंटरपोल ने दो अरब डॉलर के पीएनबी घोटाला मामले में मुख्य आरोपी नीरव मोदी के सौतेले भाई नेहल मोदी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस (आरसीएन) जारी किया है। अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि धनशोधन के आरोपों पर बेल्जियम के नागरिक नेहल (40) के खिलाफ वैश्विक गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) धनशोधन मामले की जांच कर रहा है। कहा जाता है कि नेहल मोदी अमेरिका में है और मुंबई की एक अदालत ने उसके खिलाफ दो गैर-जमानती वारंट जारी किए हैं। 

ईडी के अनुसार नेहल मोदी 48 वर्षीय नीरव मोदी और एक अन्य आरोपी मेहुल चोकसी का निवेश सलाहकार था। इंटरपोल या अंतरराष्ट्रीय पुलिस द्वारा जारी आरसीएन के अनुसार, नेहल दीपक मोदी का जन्म बेल्जियम के एंटवर्प में तीन मार्च 1979 को हुआ था और वह अंग्रेजी, गुजराती तथा हिंदी भाषाएं जानता है। किसी भगोड़े के खिलाफ जारी अपने आरसीएन में इंटरपोल अपने 192 सदस्य देशों से उस व्यक्ति को अपने यहां पाए जाने पर उसे गिरफ्तार करने या हिरासत में लेने के लिए कहता है जिसके बाद देश वापसी या प्रत्यर्पण की कार्यवाही शुरू की जा सकती है। 

ईडी ने इस मामले में दायर किए गए आरोपपत्र में नेहल को नामजद किया है और उस पर सबूतों को नष्ट करने तथा नीरव मोदी की उसके कथित गैरकानूनी कार्यों में ‘‘जानते बूझते हुए’’ मदद करने का आरोप है। ईडी ने एक बयान में कहा कि वह नीरव मोदी के लिए ट्विन फील्ड्स इन्वेस्टमेंट लिमिटेड और बेली बैंक के मामलों की देखरेख कर रहा था। इन दोनों कंपनियों को नीरव मोदी की ‘डमी’ कंपनियों से लगभग पांच करोड़ अमेरिकी डालर मिले थे। यह राशि पीएनबी के साथ हुयी धोखाधड़ी से मिली थी। ईडी ने आरोप लगाया कि पीएनबी घोटाले के सामने आने के बाद नेहल मोदी ने नीरव मोदी के करीबी मिहिर आर भंसाली के साथ दुबई से 50 किलोग्राम सोना और अच्छी खासी नकदी ली। नेहल मोदी पर मोबाइल फोन सहित अन्य डिजिटल सबूतों को भी नष्ट करने का आरोप है। 

नीरव मोदी और उसके रिश्तेदार मेहुल चोकसी पर भारत की सबसे बड़ी बैंक धोखाधड़ी के मुख्य षड्यंत्रकारी होने का आरोप है। यह बैंक धोखाधड़ी पिछले साल सामने आयी थी। आरोप है कि इस घोटाले में नीरव मोदी और मेहुल चोकसी ने पंजाब नेशनल बैंक से करीब 13,000 करोड़ रुपये से अधिक की ठगी की। नीरव मोदी लंदन में जेल में बंद है और भारत में अपने प्रत्यर्पण के मुकदमे का सामना कर रहा है । बताया जाता है कि चोकसी एंटीगुआ में है। इंटरपोल ने इससे पहले धनशोधन मामले में नीरव मोदी, उसकी बहन पूर्वी मोदी और भंसाली के खिलाफ आरसीएन जारी किया था। सीबीआई भी बैंक धोखाधड़ी के इस मामले की जांच कर रही है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment