1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. जिस योजना का शिलान्यास हम करते हैं उसका उद्घाटन भी हम ही करते हैं: PM मोदी

PM मोदी का वाराणसी दौरा: दुर्गा कुंड मंदिर में पूजा, तुलसी मानस मंदिर में रामायण पर डाक टिकट जारी किया

काशी के दुर्गा कुंड में माता की पूजा से पहले प्रधानंत्री बनारस के मशहूर तुलसी मानस मंदिर में भी दर्शन करेंगे। मानस मंदिर दुर्गाकुण्ड मंदिर से ही कुछ दूरी पर स्थित है। माता का दुर्गा कुंड मंदिर लाल है तो तुलसी मानस मंदिर सफेद संगमरमर से बना है। इस मंद

India TV News Desk India TV News Desk
Updated on: September 22, 2017 23:27 IST
PM modi- India TV
PM modi

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी के दो दिनों के दौरे पर हैं । उन्होंने दुर्गा कुंड मंदिर में मां दुर्गा की पूजा की। इस बार पीएम का काशी दौरा नवरात्र के दौरान हो रहा है इसलिए इस बार वो शिवनगरी की नगरी काशी में शक्ति की आराधना कर रहे हैं।इससे पहले वे तुलसी मानस मंदिर गए जहां उन्होंने रामायण पर डाक टिकट जारी किया। इससे पहले पीएम मोदी ने वाराणसी में एक सभा को संबोधित भी किया। पीएम मोदी ने वाराणसी-वडोदरा महामना एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाने के साथ ही यहां उन्होंने 17 योजनाओं का लोकार्पण किया। इससे पहले एयरपोर्ट पर सीएम योगी ने उनका स्वागत किया। अपनी यात्रा के दौरान पीएम मोदी अपने संसदीय क्षेत्र काशी की जनता को करीब 1 हजार  करोड़ की अलग-अलग परियोजनाओं की सौगात दी। ये भी पढ़ें: नेपाल में पकड़ी गई बलात्कारी बाबा राम रहीम की लाडली हनीप्रीत?

वीडियो

पीएम मोदी का भाषण लाइव अपडेट

  • एक हजार करोड़ के प्रोजेक्ट से वाराणसी को बेहद लाभ होगा। छह महीने में योगी जी ने जो काम किया है उसके लिए वे बधाई के पात्र हैं।
  • बड़ोदरा से बनारस को जोड़ने के लिए महामना एक्सप्रेस शुरू किया है। गुजरात से टेक्सटाइल्स उद्योग बनारस तक आया। आज फिर महामना एक्सप्रेस के जरिए वाया सूरत इसे जोड़ने की कोशिश की है। इसका सीधा संबंध आर्थिक गतिविधि के साथ है।
  • मैं बनारस के साथ-साथ बड़ोदरा से भी चुनाव लड़ा और दोनों जगह से भारी बहुमत से जीत हासिल की। मैंने बड़ोदरा की सीट छोड़कर बनारस की सीट चुनी।
  • जल एंबुलेंस का उद्घाटन हुआ है। जलमार्ग की भी अपनी ताकत है। इसे आर्थिक विकास से जोड़ने के लिए हमने कई प्रयास किए हैं।
  • हर गरीब के सपने को पूरा करना चाहता हूं। भावी पीढ़ी को विरासत में गरीबी न मिले। समाज का हर वर्ग सशक्त हो इसका पूरा प्रयास किया जा रहा है।
  • एक हजार करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास होने जा रहा है..यूपी सरकार का आभारी हूं कि पूर्वी भारत के वि्कास के सपने को पूरा करने में अहम भूमिका निभाई है..
  • 300 करोड़ की लागत से वस्त मंत्रालय द्वारा जिस प्रकल्प का लोकार्पण हो रहा है पिछले कई दशकों में बनारस की धरती पर इतने बड़े प्रकल्प की योजना साकार हुई हो जिस प्रकल्प का शि्लन्यास हम करते हैं उसका उद्घाटन भी हम ही करते हैं.. 
  • राजनीतिक हिसाब-किताब से शिलान्यास होते हैं योजनाएं लटकती रहती हैं... यहां दो पुल का लोकार्पण हुआ है.. कितने समय से लटकी हुई थी योजनाओं लेकिन योगी जी ने इसे पूरा कराया... आज बुनकर और शिल्पकार भाईयो के लिए स्वर्णिम अवसर है। 

पीएम मोदी देश को ही नहीं दुनिया को नेतृत्व देने की क्षमता रखते हैं-योगी

जैसे ही पीएम का विमान उतरा ऐसा लगा जैसे वर्षों के बाद बेटा काशी में लौटा हो-योगी

पीएम मोदी ने दीन दयाल हस्तकला संकुल का उद्घाटन किया

सीएम योगी ने एयरपोर्ट पर पीएम का स्वागत किया

बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी

पीएम मोदी की शक्ति साधना 

माता का ये मंदिर बाबा भोलेनाथ की नगरी का प्राचीनतम मंदिर है। आदिकाल में काशी में तीन ही मंदिर थे-काशी विश्वनाथ, मां अन्नपूर्णा और ये दुर्गा मंदिर। मान्यता है कि शुम्भ-निशुम्भ का वध करने के बाद मां दुर्गा ने थककर यहीं कुंड के पास विश्राम किया था। इस मंदिर में साल भर भक्तों का तांता लगा रहता है लेकिन नवरात्र के मौके पर मां दुर्गा के इस मंदिर की भव्यता और बढ़ जाती है और इस बार जब प्रधानमंत्री खुद यहां पहुंच रहे हैं तो लोगों को एक बार फिर से मोदी की शक्ति साधना देखने को मिलने वाली है।

काशी के दुर्गा कुंड में माता की पूजा से पहले प्रधानंत्री बनारस के मशहूर तुलसी मानस मंदिर में भी दर्शन करेंगे। मानस मंदिर दुर्गाकुण्ड मंदिर से ही कुछ दूरी पर स्थित है। माता का दुर्गा कुंड मंदिर लाल है तो तुलसी मानस मंदिर सफेद संगमरमर से बना है। इस मंदिर का निर्माण 1964 में कोलकाता के एक कारोबारी ने कराया था। मंदिर में भगवान राम, सीता, लक्ष्मण और हनुमान की मूर्ति के साथ ही अन्य देवी-देवताओं के चलायमान मूर्तियां भी हैं। कहा जाता है कि इसी जगह पर तुलसीदास ने रामचरितमानस की रचना की थी। इसी से मंदिर का नाम तुलसी मानस मंदिर पड़ा। मंदिर की दीवारों पर तुलसीदास के रामचरितमानस की चौपाइयां लिखी हुईं हैं।

काशी में पीएम के कार्यक्रम

दोपहर 2.45 बजे - बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचेंगे और हेलीकॉप्टर से पुलिस लाइन जाएंगे
शाम 3.30 बजे - पुलिस लाइन से हेलीकॉप्टर से ट्रेड सुविधा सेंटर बड़ालालपुर
शाम 4.50 बजे - ट्रेड सुविधा सेंटर बड़ालालपुर से लड़क मार्ग के रास्ते पुलिस लाइन हैलिपैड
शाम 5.30 बजे- पुलिस लाइन से हेलिकॉप्टर से डीएलडब्ल्यू जाएंगे.
शाम 540 बजे- डीएलडब्ल्यू से सड़क मार्ग से गेस्ट हाउस
शाम 5.40 बजे- पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक, जो 6.30 बजे तक चलेगी.
शाम 6.45 बजे- डीएलडब्ल्यू से सड़क मार्ग के जरिए तुलसी मानस मंदिर जाएंगे.
शाम 7.20 बजे- मंदिर में दर्शन और रामायण पर पोस्टल का विमोचन
शाम 7.25 बजे- तुलसी मंदिर से सड़क मार्ग से दुर्गा कुंड मंदिर
शाम 8.00 बजे- दुर्गा मंदिर में पूजा और दर्शन करेंगे.
शाम 8.05 बजे- दुर्गा मंदिर से डीएलडब्ल्यू गेस्ट हाउस में आराम करेंगे,
 
23 सितंबर

सुबह 9.30 बजे- डीरेका हैलीपैड से आराजी हैलीपेड पर आगमन
सुबह 9.35 बजे- आराजी लाइन से सड़क मार्ग के जरिए शहंशाहपुर के लिए प्रस्थान करेंगे, जहां स्वच्छता कार्यक्रम में भाग लेंगे.
शाम 9.55 बजे- शहंशाहपुर से सड़क मार्ग से पशुधन प्रक्षेत्र जाएंगे, किसानों को कर्ज माफी और प्रधानमंत्री आवास के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित करेंगे.
सुबह 11.35 बजे- पशुधन प्रक्षेत्र से सड़क मार्ग से आराजी लाइन हैलीपैड जाएंगे
सुबह 11.45 बजे- आराजी लाइन हैलीपैड से हेलिकॉप्टर से बाबतपुर एयरपोर्ट के लिए रवाना होंगे.
दोपहर 12.10 बजे- बाबतपुर एयरपोर्ट से नई दिल्ली के लिए रवाना होंगे

पीएम मोदी 22 और 23 सितंबर को वाराणसी में तीन जनसभा करने के साथ लगभग एक लाख लोगों तक अपनी बात भी पहुंचाएंगे। पहले दिन पीएम क़रीब 850 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगें तो वहीं वाराणसी से वडोदरा जाने वाली महामना एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाएंगे। पीएम अपने ड्रीम प्रॉजेक्ट 253 करोड़ से बने बुनकर ट्रेड फैसिलिटी सेंटर (टीएफसी) का भी लोकार्पण करेंगे। यह सेंटर बनारसी के ताने-बाने को सहेजगा तो गरीब बुनकरों को बिचौलियों की 'मार' से निजात दिलाएगा। बनारस समेत पूर्वांचल के बुनकरों के लिए दुनिया के बाजार में जाने का आसान रास्ता खुल जाएगा।

पीएम डीएलडब्ल्यू ऑडिटोरियम में पार्टी के विशिष्ट 100 कार्यकर्ताओं की बैठक कर फीडबैक लेंगे, फिर बीएचयू और अन्य विश्वविद्यालयों के डीन, निदेशकों से मुलाकात करेंगे। 23 सितंबर को पीएम शहंशाहपुर में प्रधानमंत्री स्वच्छता कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। यहीं पर वो गरीब आवासीय योजना और फसल ऋण मोचन योजना के हजारों लाभार्थियों को संबोधित करेंगे। इसके बाद शाहंशाहपुर में आरोग्य पशु मेला का उद्घाटन और शौचालय की नींव रखेंगे।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment