1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. मन की बात: हॉस्पिटल बनाने वाले कैब ड्राइवर, फ्री इलाज करने वाले डॉक्टर का पीएम मोदी ने किया जिक्र

मन की बात: हॉस्पिटल बनाने वाले कैब ड्राइवर, फ्री इलाज करने वाले डॉक्टर का पीएम मोदी ने किया जिक्र

पीएम मोदी ने असम के एक रिक्शा चालक के बारे में भी बताया जो अब तक गरीब बच्चों के लिए 9 स्कूलों का निर्माण करा चुका है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: March 25, 2018 12:01 IST
फुटपाथ पर मुफ्त इलाज...- India TV
Image Source : PTI फुटपाथ पर मुफ्त इलाज करते डॉक्टर अजीत मोहन।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री मोदी आज मन की बात कर रहे हैं। रेडियो पर बोलते हुए उन्होंने कहा किसान, शिक्षा और स्वास्थ्य से जुड़े मुद्दों पर बात की। अपनी बात में पीएम मोदी ने देश के गरीबों के इलाज से जुड़े दो किस्से श्रोताओं के साथ बांटे। इनमें एक बंगाल से जुड़ा है तो दूसरा उत्तर प्रदेश से। पीएम मोदी ने कानपुर डॉक्टर अजीत मोहन के बारे बारे में जिक्र किया जो पिछले एक महीने से फुटपाथ पर फ्री मरीज देख रहे हैं। अजीत मोहन के बारे में पीएम मोदी ने कहा, "कानपुर के डॉक्टर अजीत मोहन चौधरी की कहानी सुनने को मिली कि वो फुटपाथ पर जाकर ग़रीबों को देखते हैं और उन्हें मुफ़्त दवा भी देते हैं, इससे देश के बन्धु-भाव को महसूस करने का अवसर मिलता है" इसके बाद बंगाल से जुडे एक दूसरे किस्से के बारे में भी पीएम मोदी ने अपना बात रखी।

इसके बाद13 साल तक पैसे जोड़-जोड़कर गरीबों के लिए छोटा सा अस्पताल बनाने वाले कैब चालक सैदुल लस्कर का भी पीएम मोदी ने जिक्र किया। पीएम मोदी ने कहा, ''13 साल पहले, समय पर इलाज़ न मिलने के कारण कोलकाता के कैब-चालक सैदुल लस्कर की बहन की मृत्यु हो गयी, तब उन्होंने अस्पताल बनाने की ठान ली ताकि इलाज़ के अभाव में किसी ग़रीब की मौत न हो" प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि इस मिशन के लिए सैदुल ने अपने घर की सारी ज्वैलरी बेच दी। दान से पैसा इकट्ठा किया।

उनकी कैब में बैठने वाले ग्राहकों ने उसे इस काम के लिए दान किया और आज कोलकाता के पास उन्होंने 30 बस्तर वाला हॉस्पिटल बनाया है। इसके अलावा पीएम मोदी ने असम के एक रिक्शा चालक अहमद अली का भी जिक्र किया जिसने अपनी इच्छाशक्ती के दम पर गरीब बच्चों के लिए 9 स्कूल बनवाए।  डॉ अजीत मोहन चौधरी ने इससे पहले मीडिया से बात करते हुए कहा कि हर डॉक्टर को समाज की भलाई के लिए कुछ ऐसा ही करना चाहिए। डॉक्टर अजीत मोहन की बेटी भी स्वयं एक डॉक्टर हैं और उनका बेटा आईआईटी इंजीनियर है।

 

India TV Hindi पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
bigg-boss-13
plastic-ban