1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. पठानकोट एयरबेस पहुंची JIT-NIA, कांग्रेस और AAP ने किया विरोध

पठानकोट एयरबेस पहुंची JIT-NIA, कांग्रेस और AAP ने किया विरोध

पठानकोट वायुसेना स्टेशन पर हुए आतंकी हमले की जांच के सिलसिले में भारत आया पाकिस्तानी संयुक्त जांच दल (JIT) भारतीय अधिकारियों के साथ अमृतसर सड़क मार्ग से आज पठानकोट पहुंच गया।

India TV News Desk [Published on:29 Mar 2016, 12:09 PM IST]
pakistan JIT- India TV
pakistan JIT

अमृतसर/पठानकोट: 2 जनवरी को पठानकोट वायुसेना स्टेशन पर हुए आतंकी हमले की जांच के सिलसिले में भारत आया पाकिस्तानी संयुक्त जांच दल (JIT) भारतीय अधिकारियों के साथ अमृतसर सड़क मार्ग से आज पठानकोट पहुंच गया। 5 सदस्यों वाला पाकिस्तानी दल अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक (आतंकवाद रोधी विभाग) मुहम्मद ताहिर राय के नेतृत्व में अमृतसर स्थित श्री गुरू रामदास अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उतरा और कड़ी सुरक्षा के बीच सड़क मार्ग से पठानकोट के लिए रवाना हुआ। अधिकारियों ने कहा कि JIT और राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) आज पठानकोट आतंकी हमले की जांच का जायजा लेंगी।

पंजाब पुलिस पाकिस्तानी दल के काफिले के साथ चल रही थी। पाकिस्तानी दल में ISI के लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक के अधिकारी तनवीर अहमद, लाहौर मैं इंटेलिजेंस ब्यूरो के उप महानिदेशक मोहम्मद अजीम अरशद, मिलिट्री इंटेलिजेंस के लेफ्टिनेंट कर्नल इरफान मिर्जा और गुजरांवाला सीटीडी जांच अधिकारी शाहिद तनवीर भी शामिल हैं। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, जिला पुलिस को इस दौरे के बारे में बता दिया गया है और उस हिसाब से तैनाती कर दी गई है। भारतीय वायुसेना के प्रतिष्ठान के आसपास के इलाके में मुस्तैदी के साथ अवरोधक लगा दिए हैं। इस बीच, कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पाकिस्तानी जांचकर्ताओं के इस दौरे के खिलाफ एयरबेस के पास विरोध प्रदर्शन किया। विरोध करने वालों में दिल्ली के पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा भी शामिल थे।

पाक टीम को मिले सबूत दिए:

  • हमले के दौरान इस्तेमाल आतंकियों के हथियार
  • उर्दू में लिखी एक पर्ची जिस पर 25 दिसंबर की तारीख लिखी है;
  • पाकिस्तान से पठानकोट तक आतंकियों के रूट की जानकारी;
  • आतंकियों के खाने के पैकेट में 'मेड इन कराची' का मार्क;
  • दवाइयां, बिस्किट, चॉकलेट और ड्राई फ्रूट्स भी पाकिस्तान के;
  • हमले से पहले आतंकियों की पाकिस्तान की हुई कॉल डिटेल्स;
  • मसूद अजहर के भाई अब्दुल रउफ़ और आतंकियों के बीच बातचीत।

ढांगू गांव के अंदर और आसपास भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। पठानकोट वायुसेना स्टेशन यहीं स्थित है।

सरकार ने यह स्पष्ट कर दिया है कि पाकिस्तानी दल को एयरबेस में सीमित प्रवेश ही दिया जाएगा और एनआईए इस दल को उन चुनिंदा जगहों पर ही लेकर जाएगी, जहां 80 घंटे तक गोलीबारी चली थी।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Web Title: पठानकोट एयरबेस पहुंची JIT-NIA, कांग्रेस और AAP ने किया विरोध
Write a comment